December 07, 2016

ताज़ा खबर

 

फिदेल कास्त्रो के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं होंगी जौनिता कास्त्रो

वर्ष 1964 से जौनिता मियामी में रह रही हैं और फिदेल को सत्ता से हटाने के लिए उन्होंने सीआईए की एक योजना में भी सहयोग दिया था।

Author मियामी | November 27, 2016 13:15 pm
गुरिल्ला क्रांतिकारी एवं कम्युनिस्ट नेता फिदेल कास्त्रो। (Aug.18, 1999 file photo/AP/PTI)

क्यूबा के दिवंगत नेता फिदेल कास्त्रो की बहन जौनिता कास्त्रो उनके अंतिम संस्कार में शामिल नहीं होंगी। स्थानीय मीडिया ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि जौनिता दशकों से मियामी में रह रही हैं। जौनिता ने शनिवार (26 नवंबर) को ‘एल नुएवो हेराल्ड’ को बताया, ‘इस तरह की बेकार खबरें हैं कि मैं अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए क्यूबा जा रही हूं, लेकिन मैं यह स्पष्ट कर देना चाहती हूं कि मैं कभी उस द्वीप पर वापस नहीं जाऊंगी और न ही मेरी ऐसी कोई योजना है।’ उन्होंने कहा, ‘मैं किसी शख्स की मौत का जश्न नहीं मना रही हूं और न ही मैं उस शख्स के लिए ऐसा करूंगी जो मेरे परिवार नाम से ताल्लुक रखता है।’

जौनिता ने कहा, ‘फिदेल कास्त्रो की बहन होने के नाते मैं उस इंसान को खोने के दर्द से गुजर रही हूं जो मेरे ही खून से जुड़ा है।’ फिदेल के छोटे भाई और क्यूबा के राष्ट्रपति राउल कास्त्रो (85) ने शुक्रवार करीब आधी रात को सरकारी टेलीविजन पर फिदेल के निधन की घोषणा की थी। फिदेल और क्यूबा के राष्ट्रपति राउल कास्त्रो अपने माता पिता की सात संतानों में से थे। 1933 में जन्मीं जौनिता ने ही सिर्फ सार्वजनिक तौर पर साम्यवादी शासन का विरोध किया था, जिसका नेतृत्व उनके भाई ने पांच दशक से भी अधिक समय तक किया। वर्ष 1964 से जौनिता मियामी में रह रही हैं और फिदेल को सत्ता से हटाने के लिए उन्होंने सीआईए की एक योजना में भी सहयोग दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 27, 2016 1:15 pm

सबरंग