March 27, 2017

ताज़ा खबर

 

ISIS ने अपने ‘सूचना मंत्री’ की मौत की पुष्टि

अबू मोहम्मद अल फुरकान को ISIS का सूचना मंत्री भी कहा जाता है।

इस्लामिक स्टेट की फाइल फोटो।

आतंकी संगठन ISIS ने इस बात की पुष्टि कर दी है कि संगठन के सीनियर ऑपरेटिव की मौत हो चुकी है। अबू मोहम्मद अल फुरकान को ISIS का सूचना मंत्री भी कहा जाता है। इससे पहले 16 सितंबर को पेंटागन की रिपोर्ट में दावा किया गया था कि फुरकान की मौत हो चुकी है। ISIS ने सोशल मीडिया पर इस बात की पुष्टि की। फुरकान को डॉ वैल नाम से भी जाना चाहता है। पेंटागन ने दावा किया था कि 7 अक्टूबर को राका शहर के करीब हुए एक हमले में फुरकान की मौत हो गई थी। फुरकान इस आतंकी संगठन का मीडिया प्रोडक्शन देखता था। आपको बता दें कि संगठन की तरफ से अक्सर क्रूरता से भरे वीडियो जारी करता रहता है। इन वीडियो में संगठन की कैद में फंसे लोगों को मौत के घाट उतारते हुए दिखाया जाता है। फुरकान इस आतंकी संगठन के सबसे सीनियर लीडर में से एक था। फुरकान को अबू मोहम्मद अल अदनानी का करीबी था जिसकी मौत 30 अगस्त को हुई थी। आपको बता दें कि ISIS सोशल मीडिया के जरिए दुनिया भर के देशों में युवाओं को भ्रमित कर अपने साथ जोड़ता है। भारत के भी कई राज्यों से युवा ISIS में शामिल हो चुके हैं। यह संगठन दुनिया भर में हुए कई आतंकी हमलों के लिए जिम्मेदार है।

आईएसआईएस आतंकी समूह अपराध , मादक द्रव्य अथवा गिरोहों से मुक्ति की संभावना तलाश रहे युवाओं को ‘जिहाद’ शामिल कर रहा है। एक मीडिया रिपोर्ट में आज यह खुलासा किया गया है। इसे अपराध और आतंक का एक नया खतरनाक गठजोड बताते हुए टेलीग्राफ की रिपोर्ट के मुताबिक, आधे से आधे यूरोपीय जिहादियों का आपराधिक इतिहास रहा हैं। लंदन से ब्रिटिश ईएसआईएस लड़ाकों के समूह रायत अल-तौहीद द्वारा फेसबुक पर एक नकाबपोश लड़ाकों की तस्वीर साझा की गई है जिसमें खुद को ‘अल्लाह की पताका ’ कहा गया है।उस पोस्ट में नारा लिखा गया है, ‘‘ कभी कभी सबसे खराब अतीत भविष्य वाले बेहतरीन भविष्य का निर्माण करते हैं।’ रिपोर्ट में कहा गया है, ‘‘ उनका लक्ष्य वे युवा हैं जो अपराध , मादक द्रव्य अथवा गिरोहों से मुक्ति पाने की संभावना तलाश रहे हैं और आतंकी समूह उन्हें तथाकथित इस्लामिक स्टेट के लिए जिहाद में शामिल करने का प्रयास कर रहा है।’

Read Also: पूर्व ब्रिटिश मॉडल किमब्रेली मिनर्स गिरफ्तार, सोशल मीडिया के जरिए ISIS से करती थीं बात

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 11, 2016 7:34 pm

  1. No Comments.

सबरंग