ताज़ा खबर
 

ISIS ने कहा- मारा गया जिहादी जॉन, जख्‍मी साथी को गिफ्ट कर गया अपनी सेक्‍स स्‍लेव

ISIS ने उसका नाम अबू मुहारिब अल मुजाहिर बताते हुए लिखा कि, उसकी मां यमन की रहने वाली थी। बचपन में वह परिवार के साथ लंदन चला गया।
इस्लामिक स्टेट (आइएस) ने पुष्टि की है कि ‘जेहादी जॉन’ के नाम से चर्चित नकाबपोश ब्रिटिश आतंकवादी पिछले साल नवंबर में सीरिया के रक्का शहर में अमेरिका की अगुवाई वाले ड्रोन हमले में मारा गया।

आतंकी संगठन इस्‍लामिक स्‍टेट ने जिहादी जॉन के मारे जाने की पुष्टि की है। आईएसआईएस ने जॉन के शोक संदेश में उसकी तारीफ करते हुए कहा कि, वह सम्‍मान योग्‍य भाई था। उसने अपनी सेक्‍स स्‍लेव को एक अन्‍य घायल जिहादी को गिफ्ट में दे दिया। आईएस ने उसका नाम अबू मुहारिब अल मुजाहिर बताते हुए लिखा कि, उसकी मां यमन की रहने वाली थी। बचपन में वह परिवार के साथ लंदन चला गया।

जिहादी जॉन पश्चिमी देशों के बंधकों को मारने के वीडियो में दिखाई देता था। उसका असली नाम मोहम्‍मद एमवाजी था। अपनी मैगजीन दाबिक में जॉन के लिए आईएस ने लिखा कि वह सीरिया के रक्‍का शहर में नवंबर में ड्रोन हमले में मारा गया। 12 नवंबर को जब वह कार से जा रहा था इस दौरान ड्रोन ने उसे निशाना बनाया। जॉन के शोक संदेश में दावा किया गया कि कुवैत के लिए आते समय ब्रिटिश गुप्‍तचर एजेंसी एफआई5 ने उससे पूछताछ की। लेकिन मासूम बनते हुए उसने खुद को बचा लिया। वह गुप्‍तचर एजेंसियों के साथ ऐसे ही पेश आया करता था।

Read Also: लंदन के रेस्‍त्रां में सिर कलम का VIDEO देखते कैमरे में कैद हुए ISIS आतंकी

गौरतलब है कि जिहादी जॉन सबसे पहले अमेरिकन पत्रकार जॉन फोले की हत्‍या के वीडियो में नजर आया था। इसके बाद उसने अमेरिकी पत्रकार स्‍टीवन सॉटलॉफ, ब्रिटिश बंधक डेवि‍ड हेन्‍स, एलन हेनिंग और अमेरिकी बंधक पीटर केसिग की हत्‍या की।

See Pics : The Jihadis Next Door: ISIS के ‘नए जिहादी जॉन’ की पूरी कहानी लेकर आया ब्रिटिश ‘Channel 4’

isis channel 5

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.