May 29, 2017

ताज़ा खबर

 

ब्रेक्जिट के समर्थक रहे ट्रंप ने अब की ‘मजबूत यूरोप’ की वकालत

इटली के प्रधानमंत्री ने कहा कि वह यूरोपीय संघ के भविष्य को लेकर विश्वस्त हैं।

Author April 21, 2017 14:32 pm
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि वह पोप फ्रांसिस से मुलाकात का इंतजार कर रहे हैं। (File Photo)

ब्रिटेन के यूरोप से बाहर निकलने के निर्णय के कभी प्रबल समर्थक रहे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अब इस मुद्दे पर कहा है कि मजबूत यूरोप अमेरिका के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। ट्रंप ने इटली के प्रधानमंत्री पाउलो जेंटिलोनी के साथ कल व्हाइट हाउस में संवाददाताओं से कहा, ‘‘हां, अमेरिका का राष्ट्रपति होने के नाते सशक्त यूरोप मेरे लिए बेहद महत्वपूर्ण है और मेरा दृढ़तापूर्वक मानना है कि यह अमेरिका के लिए भी जरूरी है। हम यह देखना चाहते हैं और हम उसे मजबूत बनाने में मदद करेंगे। यह सब के हित में है।’’

हालांकि, उन्होंने एक वक्त कहा था कि यूरो जोन से बाहर होने पर ब्रिटेन बेहतर होगा। जी 7 शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए इटली जाने के संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि वह पोप फ्रांसिस से मुलाकात का इंतजार कर रहे हैं।

इटली के प्रधानमंत्री ने कहा कि वह यूरोपीय संघ के भविष्य को लेकर विश्वस्त हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने राष्ट्रपति ट्रंप को कहा कि हांलाकि यह मुश्किल वक्त है लेकिन हमें यूरोपीय संघ के भविष्य और निसंदेह रूप से अमेरिका और इटली के संबंधों के महत्व को लेकर विश्वास है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम मुश्किल दौर से गुजर रहे हैं, लंकिन मुझे विश्वास है कि यूरोपीय संघ की इस पर सकारात्मक प्रतिक्रिया बनी रहेगी।’’

वहीं विश्लेषकों और राजनयिकों का कहना है कि ब्रिटेन में समय से पूर्व होने वाले चुनाव से यूरोप में यह उम्मीद पैदा हो गई है कि एक बड़े जनादेश वाले नेता के साथ ब्रेग्जिट पर बातचीत ज्यादा सुगमता से चल सकती है। ब्रसेल्स में ऐसा माना जा रहा है कि यदि प्रधानमंत्री टेरीजा मे को आठ जून को उम्मीद के मुताबिक अपार बहुमत मिलता है तो उन्हें अपनी कंजर्वेटिव पार्टी में कट्टर रूख रखने वालों को नाराज करने के बारे में ज्यादा चिंता करने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

इससे उन्हें उन विकल्पों पर भी विचार करने का मौका मिलेगा, जिनसे ब्रेग्जिट के पक्षधरों को परहेज है। इनमें से एक विकल्प यह है कि वर्ष 2022 तक संधि हो, जिसके तहत मुक्त आवागमन और यूरोपीय न्यायिक अदालत का अधिकारक्षेत्र बना रहे।

यूरोपीय संसद के अध्यक्ष एंटोनियो तजानी ने गुरूवार को लंदन में टेरीजा से मुलाकात करने पर ऐसा ही कहा था। उन्होंने कहा था कि जून के अंत में वार्ताओं के शुरू होने से पहले एक नई सरकार सिर्फ ‘‘ब्रिटेन के लिए नहीं बल्कि हमारे लिए अच्छी है।’’

यह बात व्यापक तौर पर फैली हुई है। इन वार्ताओं के एक करीबी यूरोपीय सूत्र ने कहा कि टेरीजा की जीत से ‘‘लंदन को एक मजबूत नेता मिलेगा, जिसके पास अपने मतदाताओं का मजबूत समर्थन होगा और जो हमारे साथ बातचीत कर सकेगा।’’

देखिए वीडियो - अफगानिस्तान पर अमेरिका द्वारा किए गए बम हमले पर ट्रंप ने कहा- "अमेरिकी सेना पर है गर्व"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on April 21, 2017 2:32 pm

  1. No Comments.

सबरंग