ताज़ा खबर
 

लंदन के भारतीय रेस्तरां में ‘मानव मांस’ परोसे जाने की इस झूठी खबर पर मचा हड़कंप, तालाबंदी का खतरा

एक फेक न्यूज साइट ने यह खबर छापी कि एसियन रेस्टोरेन्ट कारी ट्विस्ट में मानव मांस परोसा जाता है। ये खबर फेसबुक पर वायरल हो गई।
एक फेक न्यूज साइट ने यह खबर छापी कि एसियन रेस्टोरेन्ट कारी ट्विस्ट में मानव मांस परोसा जाता है। ये खबर फेसबुक पर वायरल हो गई।

आजकल सोशल मीडिया या डिजिटल मीडिया पर फेक न्यूज या नो सीरियस न्यूज का चलन है। लोग ऐसी खबरें चटकारे लेने और पूरी तरह से सिर्फ मनोरंजन के लिए बनाते हैं लेकिन कभी-कभी ऐसी खबरों को सच मान लेने पर बड़ा संकट खड़ा हो सकता है। इंग्लैंड की राजधानी लंदन में भी कुछ ऐसा ही हुआ जब एक फेक न्यूज साइट ने एक इंडियन रेस्टोरेन्ट के बारे में कुछ इसी अंदाज में खबर छापी तो वो फेसबुक पर वायरल हो गया। अब उस रेस्टोरेन्ट पर बंदी की तलवार लटकने लगी है।

दरअसल, एक फेक न्यूज साइट ने यह खबर छापी कि एसियन रेस्टोरेन्ट कारी ट्विस्ट में मानव मांस परोसा जाता है। ये खबर फेसबुक पर वायरल हो गई। अब लोग रेस्टोरेन्ट के मालिक को धमकियां दे रहे हैं। इतना ही नहीं झूठी खबर वायरल होने के बाद से इस रेस्टोरेन्ट में अब ग्राहकों का आना भी कम हो गया है। रेस्टोरेन्ट की मालकिन शिनरा बेगम कहती हैं, “एक आदमी ने मुझे कहा कि अगर होटल की खिड़कियों का शटर बंद रहा तो हम शीशा तोड़ देंगे। एक आदमी ने तो पुलिस में जाकर इस बात की शिकायत कर दी है कि वहां मानव मांस परोसा जाता है। इस खबर की वजह से हमारी धंधा चौपट हो रहा है। कुछ लोग तो हमें फोन कर धमकी दे रहे हैं।”

पिछले शनिवार को फेसबुक पर न्यूज आर्टिकल शेयर हुई थी जिसका शीर्षक था- “मानव मांस परोसने के आरोप में बंद हुए एशियन रेस्टोरेन्ट।” इस खबर के साथ कारी ट्विस्ट रेस्टोरेन्ट की तस्वीर भी लगी थी। उस न्यूज में विस्तार से लिखा गया था, “पिछली रात इंडियन रेस्टोरेन्ट का मालिक रंजन पटेल को मानव मांस परोसने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है। उसके रेस्टोरेन्ट से 9 मानव शरीर फ्रोजेन अवस्था में मिले हैं जिसे प्रोसेस करने के लिए रखा गया था। पुलिस ने रंजन पटेल को फिलहाल अपनी कस्टडी में रखा है जबकि रेस्टोरेन्ट पर ताला लगा दिया है।”

शिनरा बेगम ने कहा कि हमारा होटल पिछले 60 सालों से है और यह बंद नहीं हो सकता। उन्होंने कहा कि फेक न्यूज को लोग सही मान बैठे । इसके बाद सोमवार को शिनरा ने खुद फेसबुक पर अफवाहों को बेबुनियाद ठहराते हुए अपना वीडियो पोस्ट जारी किया। वहां ऐसा चलन है कि फेक न्यूज साइट पर कोई भी शख्स कोई भी फेक न्यूज अपलोड कर सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on May 18, 2017 9:22 pm

  1. No Comments.
सबरंग