May 28, 2017

ताज़ा खबर

 

म्यामार में खुदाई के दौरान मिला 175 टन का पत्थर, कीमत 11 अरब रुपए

म्यामार दुनिया का सबसे बड़ा जेड स्टोन उत्पादक देश है। इन विशालकाय पत्थर को अब चीन भेजा जाएगा

इस पत्थर का वजन 175 टन है। (PHOTO: swns.com)

म्यामार के कचिन स्टेट में खदान में खुदाई के दौरान मजदूरों को एक विशालकाय जेड स्टोन मिला। इस जेड स्टोन का वजन 175 टन है। इस पत्थर की बाजार में कीमत 140 मिलियन पाउंड बताई जा रही है। इस कीमत को अगर रुपए में देखें तो इस पत्थर की कीमत करीब 11 अरब रुपए हुई। जेड स्टोन को भारत में हरिताश्म पत्थर के नाम से जाना जाता है। यह पत्थर बेहद कीमती होता है। जेड स्टोन से कई तरह के गहने बनाए जाते हैं। इसके अलावा चाकू, कुल्हाड़ी और अन्य कई चीजों को बनाने में इसका इस्तेमाल किया जाता है। 175 टन के इस पत्थर को अब चीन भेजा जाएगा जहां इससे कई तरह की चीजों का निर्माण किया जाएगा। खदान में काम करने वाले एक व्यक्ति साओ मिन बताते हैं कि जब हमने यह पत्थर निकाला तो हमें लगा कि हमारी लॉटरी लग गई। पर यह पत्थर देश के लिए है।

भारतीय रुपए में इसकी कीमत 11 अरब रुपए है।  (PHOTO: swns.com) भारतीय रुपए में इसकी कीमत 11 अरब रुपए है। (PHOTO: swns.com)

यह हमारे देश के लिए फक्र की बात है। साओ मिन ने कहा कि इस बेशकीमती पत्थर को जमीन से ढूंढ़ निकालने वाले मजदूरों को इसकी कितनी कीमत मिलती है यह देखने वाली बात है। मैं उम्मीद करता हूं कि गरीब मजदूरों को सही कीमत मिले। आपको बता दें कि बर्मा दुनिया का सबसे बड़ा जेड स्टोन उत्पादक देश है। आपको बता दें कि हरिताश्म पत्थर पुराने समय से इस्तेमाल किया जाता रहा है। पुराने समय में इससे तीरों का निर्माण किया जाता था। इसके अलावा सदियों से इससे गहनें बनाए जाते रहे हैं। यह पत्थर मजबूती के लिहाज से काफी भरोसेमंद होता है इस वजह से इससे कई तरह के हथियार भी बनाए जाते हैं। पिछले 5000 सालों से इससे हथियारों का निर्माण किया जाता रहा है।

Read Also: म्यामार में जमीन धसने से 100 लोगों की मौत

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 17, 2016 11:30 am

  1. No Comments.

सबरंग