ताज़ा खबर
 

जी 20 शिखर सम्मेलन 2017: जर्मनी में बदले-बदले दिखे भारत-चीन के सुर, PM मोदी ने चीनी राष्ट्रपति को दी शुभकामनाएं, तो शी जिनपिंग ने की भारत की तारीफ

BRICS देशों के नेताओं की मीटिंग को संबोधित करते हुए पीएम ने चीन समेत ब्रिक्स के सभी देशों के साथ सहयोग का वादा किया।
जी 20 शिखर सम्मेलन 2017 में पीएम नरेन्द्र मोदी का स्वागत करती जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्कल, (फोटो-AP)

सिक्किम मोर्चे पर तनाव के बीच प्रधानमंत्री जी 20 शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जर्मनी के हैम्बर्ग में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात की। दोनों ने एक दूसरे से हाथ भी मिलाया। पीएम ने कहा कि राष्ट्रपति शी जिनपिंग के चेयरमैनशिप के अंतर्गत ब्रिक्स ने सकारात्मक गति पकड़ी है, उन्हें ब्रिक्स के आगामी सम्मेलन के लिए मेरी शुभकामनाएं। इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने चीन के साथ पूर्ण सहयोग का वादा किया है। बता दें कि अगला ब्रिक्स सम्मेलन इसी साल सितंबर में चीन के फुजियान राज्य में होने जा रहा है। BRICS देशों के नेताओं की अनौपचारिक मीटिंग को संबोधित करते हुए पीएम ने चीन समेत ब्रिक्स के सभी देशों के साथ सहयोग का वादा किया। इस मौके पर पीएम ने कहा कि भारत दिनों दिन आत्म निर्भर होता जा रहा है। BRICS देशों की बैठक में पीएम ने जीएसटी की चर्चा की और कहा कि जीएसटी भारत का अबतक का सबसे बड़ा कर सुधार है।

इसी बैठक में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने भारत की भी सराहना की। शी जिनपिंग ने ब्रिक्स देशों की अनौपचारिक बैठक में कहा कि भारत ने आतंकवाद के खिलाफ जंग में कड़े कदम उठाए, उन्होंने भारत के नेतृत्व में ब्रिक्स देशों के प्रगति की भी तारीफ की। शी जिनपिंग ने कहा कि भारत के नेतृत्व में ब्रिक्स ने रफ़्तार पकड़ी।

बता दें कि सिक्किम से सटे भूटान के मालिकाना हक वाली जमीन डोका ला में चीन द्वारा सड़क निर्माण पर भारत और चीन के बीच लगभग तीन हफ़्ते से टकराव की स्थिति है। भारत ने इस इलाके में सड़क निर्माण को अपनी सुरक्षा के लिहाज से संवेदनशील बताकर इसे गलत बताया है। भूटान ने भी चीन पर अपनी जमीन पर जबरन सड़क बनाने का आरोप लगाया है। लेकिन चीन की सेना जबरन सड़क निर्माण पर अड़ी है। चीन ने इसी तनाव के दौरान भारत के दो बंकरों को नष्ट कर दिया था। भारत ने भी इस जगह पर अपनी फौजे तैनात कर दी है, और सेना चीन की किसी भी हिमाकत का जवाब देने को तैयार है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग