ताज़ा खबर
 

फ्रांस: धर्म प्रचारकों के घर में घुसा हमलावर, महिला की हत्या, पुलिस ने पूरे इलाके को घेरा

एक बुजुर्ग कैथोलिक पादरी की जुलाई में हत्या समेत हाल में हुए जिहादी हमलों की श्रृंखला के बाद फ्रांस आपातकाल की स्थिति में है।
Author मोंतफेरियर सुर लेज (फ्रांस) | November 25, 2016 13:12 pm
दक्षिण फ्रांस के मोंतफेरियर सुर लेज में स्थित धर्म प्रचारकों के आवास में हमले के बाद वहां मौजूद पुलिसकर्मी। (AP Photo/25 Nov, 2016)

दक्षिणी फ्रांस में सेवानिवृत्त धर्मप्रचारकों के एक आवास में टोपी वाली जैकेट पहने एक हमलावर ने एक महिला की हत्या कर दी। हमलावर के पास चाकू था। यह हमला ऐसे समय में किया गया है जब देश में हाल में कई जिहादी हमले हुए हैं। एक अभियोजक ने बताया कि एक शॉटगन एवं एक चाकू लिए एक व्यक्ति ने मोंतपेलियर के निकट मोंतफेरियर सुर लेज गांव स्थित आवास में काम करने वाली एक महिला को बांधकर उसकी हत्या कर दी। इस आवास में 70 से अधिक महिलाएं एवं पुरुष रहते हैं जिनमें से अधिकतर ने अफ्रीका में धर्मप्रचारकों के रूप में सेवाएं दी हैं। पुलिस अभियान से जुड़े सूत्रों ने बताया कि सशस्त्र पुलिस ने इमारत की तलाशी ली लेकिन उनका मानना है कि हमलावर भाग गया है। अज्ञात हमलावर का पता लगाने के लिए बड़े स्तर पर पुलिस अभियान जारी है। एक हेलीकॉप्टर को इलाके के ऊपर उड़ान भरते देखा जा रहा है जो एक बड़ी स्पॉटलाइट की मदद से जमीन पर नजर रख रहा है।

जांचकर्ताओं के पास अभी इस बात के कोई सबूत नहीं है जिससे यह बताया जा सके कि यह आतंकवादी हमला था या नहीं। एक बुजुर्ग कैथोलिक पादरी की जुलाई में हत्या समेत हाल में हुए जिहादी हमलों की श्रृंखला के बाद फ्रांस आपातकाल की स्थिति में है। मोंतपेलियर के अभियोजक क्रिस्टोफ बैरेट ने एएफपी से कहा, ‘फिलहाल एक ही पीड़ित का पता चला है। इस समय कोई विशेष सबूत नहीं है जिससे अपराध के पीछे के मकसद का पता चल सके।’ उन्होंने कहा कि ‘कोई भी चीज’ हत्यारे के ‘मकसद की ओर इशारा नहीं कर रही।’ अधिकारियों को हमलावर के बारे में फिलहाल कोई जानकारी नहीं है। मोंतफेरियर सुर लेज में एक स्थानीय काउन्सलर एलेन बर्थेत ने बताया कि आवास में रहने वाले लोग ‘बहुत बुजुर्ग हैं और उनकी औसत आयु 75 वर्ष है। कुछ की आयु 90 वर्ष से भी अधिक है।’

उन्होंने बताया कि कई निवासियों को चलने फिरने में मदद की आवश्यकता होती है। फ्रेंच बिशप्स कांफ्रेंस के महासचिव ओ आर दुमास ने ट्विटर के जरिए दिए एक संदेश में कहा, ‘हम एक सेवानिवृत्ति आवास में हुए हमले में जीवन गंवाने वाली महिला की आत्मा की शांति के लिए आज रात प्रार्थना करते हैं।’ हमलावर के आवास में अचानक घुसने की घटना के करीब दो घंटे बाद एक दर्जन से अधिक पुलिस एवं आपातकालीन वाहनों को आवास के पास सड़कों पर लाइनों में लगे देखा गया और पुलिस इलाके से गुजरने वाले वाहनों की तलाशी ले रही है। सैंकड़ों मीटर तक सुरक्षा घेरेबंदी की गई है और विशिष्ट सशस्त्र इकाई ‘रेड’ के अधिकारी घटनास्थल पर हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.