ताज़ा खबर
 

फेसबुक से वियतनाम युद्ध की फोटो हटाकर फंसे मार्क जुकरबर्ग, नार्वे के अखबार ने छापा खुला पत्र

नार्वे के एक सबसे बड़े समाचार पत्र ने वियतनाम युद्ध के दौरान लिए गए एक फोटो को फेसबुक से हटाने के फैसले को लेकर पहले पेज पर फेसबुक के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी मार्क जुकरबर्ग के खिलाफ खुला पत्र लिखा है।
फेसबुक की ओर से जारी किए गए नोटिस में कहा गया था कि कोई भी फोटो जिसमें नग्न महिला के ब्रेस्ट अथवा यौन अंगों को दिखाया जा रहा होगा उसे फेसबुक से हटा दिया जाएगा।

नार्वे के एक सबसे बड़े समाचार पत्र ने वियतनाम युद्ध के दौरान लिए गए एक फोटो को फेसबुक से हटाने के फैसले को लेकर पहले पेज पर फेसबुक के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी मार्क जुकरबर्ग के खिलाफ खुला पत्र लिखा है।  साथ ही उन्हें ताकत का गलत इस्तेमाल करने वाला बताया है। ऑफनपोस्ट के एडिटन इन चीफ हंसेन ने  मार्क जुकरबर्ग पर ताकत का गलत इस्तेमाल करने का आरोप लगाते हुए कहा है कि मैं इससे निराश हूं, इतना ही नहीं मैं इससे उससे डरा हुआ भी हूं।

उन्होंने कहा कि मैं चिंतित हूं कि दुनिया के सबसे महत्वपूर्ण माध्यम की आजादी को बढ़ाने के बजाय इसे सीमित किया जा रहा है और यह कभी कभी सत्तावादी तरीके से होता है। बता दें कि यह विवाद उस वक्त पैदा हुआ जब फेसबुक ने नॉर्वे के लेखक टॉम एगिलैंड की पोस्ट से इतिहास को बदलने वाली यह फोटो हटा दी।  एगिलैंड ने  “seven photographs that changed the history of warfare” नाम से एक पोस्ट डाली थी जिसमें वो ‘नापाम गर्ल’ वाली फोटो भी शामिल थी। बता दें कि इस फोटो में इस फोटो में वियतनाम युद्ध के दौरान नापाम शहर में सड़क पर भागते बदहवास बच्चे दिखाई दे रहे हैं। इन बच्चों में एक 9 साल की बच्ची नग्न हालत में ही दौड़ लगाती दिख रही है। फोटोग्राफर निक उट की इस फोटो को पुलित्जर सम्मान भी मिल चुका है।

फेसबुक की ओर से जारी किए गए नोटिस में कहा गया था कि कोई भी फोटो जिसमें नग्न महिला के ब्रेस्ट अथवा यौन अंगों को दिखाया जा रहा होगा उसे फेसबुक से हटा दिया जाएगा। हालांकि एडिटर इन चीफ एस्पेन एजिल हेंसन ने लिखा कि वे इस नोटिस पर कुछ कहते इससे पहले ही फेसबुक ने उनकी पोस्ट से भी यह फोटो हटा दी।  वहीं उन्होंने हेंसन ने फेसबुक पर कई सवाल भी खड़े किए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग