ताज़ा खबर
 

“डोनाल्ड ट्रंप अब तक के सबसे खतरनाक राष्ट्रपति”

उन्होंने कहा कि हमारे मौजूदा राष्ट्रपति अमेरिका के इतिहास के सबसे खतरनाक राष्ट्रपति हैं और कांग्रेस देश के इतिहास की सबसे अधिक प्रतिक्रियावादी कांग्रेस है।
Author लास वेगास | October 22, 2017 12:52 pm
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप। (Source: Agency)

डेमोक्रेटिक पार्टी के अध्यक्ष टॉम पेरेज ने कहा कि डोनाल्ड ट्रंप से मुकाबले के लिए पार्टी की एकता अहम है। उन्होंने अमेरिका के राष्ट्रपति पर निशाना साधते हुए उन्हें देश के ‘अस्तित्व के लिए खतरा’ बताया। फरवरी में अपने निर्वाचन के बाद पहली बार पार्टी के राष्ट्रीय सम्मेलन में पेरेज ने कहा, ‘‘हमारे मौजूदा राष्ट्रपति अमेरिका के इतिहास के सबसे खतरनाक राष्ट्रपति हैं और कांग्रेस देश के इतिहास की सबसे अधिक प्रतिक्रियावादी कांग्रेस है।’’

बराक ओबामा मंत्रिमंडल में शामिल रहे पेरेज ने भ्रष्टाचार की संस्कृति की आलोचना की। उन्होंने आगाह किया कि पार्टी की प्राथमिकताओं और नेतृत्व को लेकर आंतरिक संघर्ष से पार्टी अधिक चुनाव जीतकर वाशिंगटन में रिपब्लिकन के वर्चस्व को तोड़ने के लक्ष्य से भटक जाएगी। उल्लेखनीय है कि कुछ दिनों पहले ही क्यूबा के कम्युनिस्ट क्रांतिकारी नेता चे ग्वेरा की बेटी ने डर प्रकट किया था कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के पागलपन से मानवता नष्ट हो सकती है। ग्वेरा की सबसे बड़ी बेटी डॉ. अलीदा ग्वेरा मार्च ने अमेरिका पर लोगों की ताकत को कुचलने के लिए युद्ध का इस्तेमाल करने का भी आरोप लगाया था।

ग्वेरा परिवार के लिए अक्सर प्रवक्ता के रुप में नजर आने वाली 57 वर्षीय अलीदा ने क्यूबा की राजधानी हवाना में एक साक्षात्कार में वीक से कहा था, ‘‘इस व्यक्ति के पास मानवता को नष्ट करने की बहुत ताकत है और हम उस मानवता का हिस्सा हैं। समस्या यह है कि उनके पास ताकत है, स्वविवेक नहीं।’’ जब उनसे पूछा गया था कि वह दस साल बाद क्यूबा को कहां देखती हैं, अलीदा ने कहा था, ‘‘यह अमेरिका के वर्तमान राष्ट्रपति के पागलपन पर काफी निर्भर करता है।’’

उन्होंने ट्रंप की ओर संकेत करते हुए कहा था, ‘‘हम अहसास नहीं करते या अहसास करना नहीं चाहते कि हम अपने ही ग्रह को नष्ट कर रहे हैं…..हम जो विध्वंस करने जा रहे हैं वह इससे पहले की निष्क्रियता है और सत्ता में इस तरह के पागल व्यक्तियों के रहने से चीजें और जटिल हो जाती हैं।’’ अलीदा के हवाले से कहा गया था, ‘‘यह जाग जाने का वक्त है। हमें जागना होगा क्योंकि हमारे पास ज्यादा वक्त नहीं बचा है।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.