ताज़ा खबर
 

डोकलाम विवाद: एक महीने से आमने-सामने हैं भारत और चीनी सैनिकों की मानव श्रृंखला

यह मुद्दा बीते 30 दिनों से काफी गर्माया हुआ है।
प्रतीकात्मक तस्वीर

चीन ने 12 जुलाई को भारतीय सेना को डोकलाम से पीछे हट जाने के लिए कहा था। वहीं यह मुद्दा बीते 30 दिनों से काफी गर्माया हुआ है। एनडीटीवी की खबर के मुताबिक पिछले एक महीने से क्षेत्र में भारतीय सेना के जवानों और चीनी सैनिकों के बीच गतिरोध जारी है। भारतीय सेना के लगभग 350 जवानों की मानव श्रृंखला और चीनी सैनिकों की मानव श्रृंखला आमने-सामने है। हर 2 घंटे में भारतीय जवानों की बदली होती है। दोनों देशों के जवान अपनी-अपनी मानव श्रृंखला बनाए एक दूसरे से कुछ ही मीटर की दूरी पर खड़े हैं। खबर के मुताबिक दोनों मुल्कों के जवानों के बीच गतिरोध नाथू ला पास से महज 15 किलोमीटर की दूरी पर हो रहा है। जवानों की कतार लगभग 500 मीटर की है।

खबर के मुताबिक भारतो को ड्रोन्स द्वारा यह जानकारी भी मिली है कि चीनी सैनिकों की मानव श्रृंखला के पीछे लगभग 1 किलोमीटर की दूरी पर 3 हजार के करीब सैनिक मौजूद हैं और लाइट मशीनरी भी है। वहीं भारत के पास भी अपने सैनिकों की मानव श्रृंखला के पीछे फोर्स और लाइट मशीनरी मौजूद है। समुद्री तल से 4,500 मीटर की ऊंचाई पर हवा का दबाव काफी कम होता है। भारतीय जवान हर दो घंटे में बदले जाते हैं। चीन की नजर डोकलाम इलाके के दक्षिण में जम्फ़री रिज पर है।

बता दें 12 जुलाई को चीन ने दोबारा भारतीय सेना को डोकलाम से पीछे हटकर सिक्किम क्षेत्र में सीमा विवाद के समाधान की शर्त रखी थी। वहीं बीजिंग ने भारतीय विदेश सचिव एस. जयशंकर की यह टिप्पणी खारिज कर दी कि भारत और चीन के बीच अतीत में भी सीमा पर मतभेद पैदा हुए हैं, जो सुलझाए गए। वहीं चीनी मीडिया भी इस मुद्दे को लेकर लगातार भारत पर निशाना साधता रहा है। चीन के सरकारी टैबलॉयड ग्लोबल टाइम्स ने 10 जुलाई को अपने संपादकीय में तिब्बती झंडा फहराए जाने का उल्लेख करते हुए लिखा था कि अगर भारत ने डोकलाम विवाद पर तिब्बत कार्ड खेला तो हिन्दुस्तान खुद जल जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग