ताज़ा खबर
 

ढाका आतंकी हमला: हमलावर के पिता ने मांगी तारिषी के माता-पिता से माफी

ढाका के एक कैफे में हमला करने वाले संदिग्ध इस्लामिक स्टेट आतंकियों में अपने बेटे का नाम शामिल होने पर अवामी लीग के नेता ने कहा कि मेरा बेटा बचपन से ही पांच बार नमाज पढ़ता था।
Author ढाका | July 5, 2016 17:58 pm
ढाका के एक कैफे में हुए आतंकी हमले में शामिल संदिग्ध इस्लामिक स्टेट के आतंकियों की तस्वीर।

बांग्लादेश के एक कैफे में हमला करने वाले संदिग्ध इस्लामिक स्टेट आतंकवादियों में अपने बेटे का नाम शामिल होने पर बांग्लादेश के अवामी लीग के नेता ने कहा कि वह हमले में शामिल लोगों में अपने बेटे का नाम सुनकर ‘स्तब्ध’ हैं क्योंकि उनके बेटे के कट्टरपंथी बनने का कोई संकेत नहीं था। सत्ताधारी अवामी लीग के एक पूर्व नेता इम्तियाज खान ने ‘बीबीसी बंगाली’ को बताया, ‘यह सुनकर मैं स्तब्ध, अवाक् हूं।’ इसके साथ ही उन्होंने हमले में मारी गई भारतीय तारिषी जैन के पिता से भी माफी मांगी है। ज्ञात हो कि ढाका के कैफे में आतंकी हमले के दौरान इस्लामिक स्टेट के आतंकियों ने 20 विदेशी नागरिक सहित कुल 22 लोगों की हत्या कर दी थी।

उन्होंने कहा, ‘मेरा बेटा बचपन से ही पांच बार नमाज पढ़ता था। लेकिन हमने कभी ऐसा ख्वाब में भी नहीं सोचा था। घर पर ऐसा कुछ नहीं था, कोई ऐसी किताब या कोई ऐसी चीज नहीं थी जो यह संकेत देती कि उसका झुकाव उस ओर हो रहा है।’ ढाका के होले आर्टिजन बेकरी में बंधक बनाए गए लोगों को मुक्त कराने के लिए सुरक्षा बलों के संयुक्त अभियान के दौरान इम्तियाज का बेटा रोहन सुरक्षा बलों की गोली लगने से मारा गया था।

पिछले साल दिसंबर में रोहन के लापता होने के बाद उसके माता पिता ने पुलिस में उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी और तब से उन्होंने उसके बारे में कुछ भी नहीं सुना। लेकिन स्थानीय मीडिया में छपी हमलावरों की तस्वीरों में से उन्होंने अपने बेटे को पहचान लिया। हमलावरों में से सभी के बांग्लादेशी होने और सम्पन्न परिवारों तथा अच्छी शैक्षिक पृष्ठभूमि से होने की खबरें आने की पृष्ठभूमि में इम्तियाज का बयान सामने आया है।

हमलावरों में से तीन ढाका के संभ्रांत निजी स्कूलों से आते हैं। बताया जाता है कि निब्रास इस्लाम ने बांग्लादेश के एक अंतरराष्ट्रीय निजी स्कूल तुर्किश होप स्कूल से पढ़ाई की थी और फिर उसने ढाका में एक शीर्ष निजी यूनीवर्सिटी नॉर्थ साउथ यूनीवर्सिटी में पढ़ाई की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग