ताज़ा खबर
 

अमेरिका: डलास में विरोध प्रदर्शन के दौरान पांच पुलिस अधिकारियों की मौत

डलास के निचले इलाके में पुलिस की ओर से नस्ली भेदभाव किए जाने के खिलाफ किया जा रहा था विरोध-प्रदर्शन
Author ह्यूस्टन | July 8, 2016 17:00 pm
अमेरिका के डलास में प्रदर्शन के दौरान तीन ट्रांजिट पुलिसकर्मियों की गोली मार कर हत्‍या कर दी गई। (Photo:AP)

इस सप्ताह पुलिस द्वारा अश्वेत लोगों पर की गई घातक गोलीबारी के विरोध में गुरुवार (7 जुलाई) रात को हो रहे विरोध प्रदर्शन में स्निपर्स ने ‘घात लगाकर हमला करने के तरीके’ से गोलीबारी की, जिसमें पांच अधिकारी मारे गए और सात अन्य घायल हो गए। अमेरिकी कानून प्रवर्तन इतिहास में यह पुलिस के लिए सबसे भयंकर दिनों में से एक साबित हुआ है। गोलीबारी शहर के पुराने इलाके के व्यस्ततम हिस्सों में से एक में हुई। यह इलाका होटलों और रेस्तरांओं से भरा है। डलास पुलिस प्रमुख डेविड ब्राउन ने संवाददाताओं को बताया कि दो स्निपर्स ने कुछ ऊंचाई से ‘घात लगाकर हमला करने के अंदाज में’ गोलीबारी की। उन्होंने कहा कि सैंकड़ों लोगों की शांतिपूर्ण रैली में हिंसा भड़कने के कुछ घंटे बाद अमेरिकी राज्य टेक्सास के डलास में पुलिस गैराज में एक संदिग्ध के साथ बातचीत कर रही थी।

ब्राउन ने कहा कि संदिग्ध लगभग एक घंटे तक पुलिस के साथ गोलीबारी करता रहा और वह बातचीत में सहयोग नहीं कर रहा था। उन्होंने कहा कि गतिरोध को समाप्त करने के लिए कोशिश जारी है। पुलिस प्रमुख के अनुसार, संदिग्धों ने व्यस्त इलाके में बम लगे होने की धमकी दी। उन्होंने यह भी बताया कि उनका विभाग संघीय एजेंसियों के साथ समन्वय कर रहा है। एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान ब्राउन ने कहा कि संदिग्ध ने वार्ताकारों को बताया है कि ‘अंत आ रहा है और वह हममें से और अधिक लोगों को – यानी कानून प्रवर्तन से जुड़े लोगों को- चोट पहुंचाने वाला और मारने वाला है। उसने कहा कि इस गैराज में और निचले इलाके में हर जगह बम लगे हैं।’

Read Also: मदीना सउदी अरब आतंकी हमले में 19 गिरफ्तार, 12 पाकिस्तानी नागरिक

ब्राउन ने कहा कि (इसके जैसे) अन्य लोग भी हो सकते हैं। ‘हम अभी तक इस बात से पूरी तरह आश्वस्त नहीं हैं कि सब संदिग्ध हमारे सामने हैं।’ ब्राउन ने कहा कि जांचकर्ता यह मानकर काम कर रहे हैं कि सभी संदिग्ध एकसाथ मिलकर काम कर रहे हैं। ब्राउन ने पहले कहा था कि एक संदिग्ध को गुरुवार (8 जुलाई) रात को पुलिस के साथ गोलीबारी के बाद गिरफ्तार किया गया था। उसके पास से एक संदिग्ध पैकेट बरामद किया गया था और उसे बम निरोधी दस्ते ने उसकी जांच की थी। गोलीबारी की इस त्रासद घटना के नए पहलू सामने आ रहे हैं और व्हाइट हाउस के अनुसार, अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा को घटना के बारे में बता दिया गया है। ओबामा नाटो सम्मेलन में शिरकत करने के लिए वारसॉ गए हैं। पोलिश राजधानी में पहुंचने से पहले उन्होंने कहा कि इस सप्ताह लुइसियाना और मिनेसोटा में पुलिस द्वारा अश्वेतों पर की गई घातक गोलीबारी ‘नस्ली भेदभाव का सूचक’ है और सभी अमेरिकियों को इन क्रूर कृत्यों से व्यथित होना चाहिए।

Read Also: डलास संदिग्ध ने दावा किया कि उसने इलाके में हर जगह बम लगाए हैं: पुलिस प्रमुख

ओबामा ने कहा, ‘हम सभी अमेरिकियों को इन गोलीबारियों से व्यथित होना चाहिए क्योंकि ये कोई अलग-थलग घटनाएं नहीं हैं। ये हमारे आपराधिक न्याय तंत्र में व्याप्त व्यापक नस्ली भेदभाव का संकेत हैं।’ ओबामा ने उन आंकड़ों का हवाला दिया, जो दिखाते थे कि अश्वेत लोगों को पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए जाने और गोली मारने की संभावना ज्यादा है। ओबामा ने कहा कि श्वेतों की तुलना में अफ्रीकी-अमेरिकी लोगों को रोके जाने की संभावना 30 प्रतिशत ज्यादा है। ‘रोके जाने के बाद अफ्रीकी-अमेरिकियों और हिस्पैनिक लोगों की तलाशी लिए जाने की संभावना तीन गुना ज्यादा है।’

डलास में गोलीबारी स्थानीय समयानुसार शाम आठ बजकर 45 मिनट पर शुरू हो गई थी। उस दौरान सैंकड़ों लोग इस सप्ताह पुलिस की घातक गोलीबारी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने के लिए एकत्र हुए थे। ये प्रदर्शनकारी मिनेसोटा के एक अधिकारी द्वारा बुधवार (6 जुलाई) को फिलांदो कास्टाइल को गोली मार दिए जाने के बाद विरोध प्रदर्शन के लिए एकत्र हुए थे। फिलांदो को जिस समय गोली मारी गई, तब वह एक कार में एक महिला और एक बच्ची के साथ मौजूद था। गोलीबारी के बाद की घटना का वीडियो व्यापक तौर पर शेयर किया गया था।

इससे एक दिन पहले ही लुइसियाना में एल्टन स्टर्लिंग को दो श्वेत अधिकारियों ने गोली मार दी थी। उस घटना का भी सेलफोन से वीडियो बना लिया गया था। डलास पुलिस ने कहा कि गुरुवार (7 जुलाई) रात हुए विरोध प्रदर्शनों के दौरान 11 अधिकारियों को गोली मार दी गई थी। इनमें से पांच की मौत हो चुकी है। अमेरिकी संघीय उड्डयन प्रशासन (एफएए) ने डलास के वायुक्षेत्र को प्रतिबंधित कर दिया है। एफएए की ओर से वायुसेना कर्मियों को जारी नोटिस में कहा गया, ‘कोई विमान चालक इस एनओटीएएम के तहत आने वाले क्षेत्रों में विमान नहीं उड़ा सकता।’

‘डलास पुलिस विभाग के निर्देशों के तहत चलाए जाने वाले राहत विमानों को ही इस वायुक्षेत्र में प्रवेश की अनुमति है।’ मेयर माइक रॉलिंग्स ने कहा कि व्हाइट हाउस और टेक्सास के गवर्नर ग्रेग एबट ने मदद की पेशकश की है। डलास के मेयर माइक रॉलिंग्स ने कहा कि प्रदर्शन में लगभग 1000 लोग मौजूद थे और लगभग 100 पुलिसकर्मियों को इस आयोजन और आसपास के इलाके में तैनात किया गया था। जिस समय गोलीबारी हुई, तब प्रदर्शन खत्म हो गया था और मार्च शुरू हो गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग