ताज़ा खबर
 

टेक्सास में निर्दयी बनी मां, अपने मासूम बच्चों को सबक सिखाने के लिए गाड़ी में किया बंद, गरम तापमान के कारण मौत

आधे घंटे तक बच्चों की तलाश करने के बाद मैरी को दोनों बच्चों के शव घर के बाहर खड़ी उसकी होंडा क्रोसटूर गाड़ी से बरामद हुए।
मैरी के बार-बार बुलाने पर भी बच्चे बाहर नहीं आए तो उसे गुस्सा आ गया। (Photo Source: Video Grab)

दक्षिण यूनाइटेड स्टेट के टेक्सास में एक निर्दयी मां ने अपने बच्चों को ऐसी सजा दी की उसके दोनों बच्चों की मौत हो गई। यह घटना 26 मई की है। पार्कर काउंटी पुलिस के अधिकारियों द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार आरोपी महिला की पहचान 24 वर्षीय सिंथिया मैरी रैंडल्फ के रुप में की गई है। अपने पहले बयान में मैरी ने पुलिस को बताया था कि जिस समय यह घटना हुई वह टीवी देखते हुए लांडरी से आए हुए कपड़ों की तय कर रही थी कि तभी उसका 2 साल का बेटी और 16 महीने का छोटा बेटा खेलते हुए कमरे के पीछे बने बरांडे में चले गए जहां पर बहुत ज्यादा गरम तापमान था।

थोड़ी देर के बाद मैरी वहां गई तो उसे बच्चे वहां नहीं मिले। आधे घंटे तक बच्चों की तलाश करने के बाद मैरी को दोनों बच्चों के शव घर के बाहर खड़ी उसकी होंडा क्रोसटूर गाड़ी से बरामद हुए। इसकी सूचना तुरंत ही मैरी ने पुलिस को दी। पुलिस को पहले लग रहा था कि महिला सच बोल रही है लेकिन जब हादसे के दो हफ्ते तक अलग-अलग जांच अधिकारियों ने मैरी से पूछताछ की तो उसने इस घटना की सारी सच्चाई बता दी। मैरी ने पुलिस को बताया कि घटना वाले दिन दोपहर के करीब 12:15 बज रहे थे, जब उसके बच्चे उसकी कार में खेल रहे थे।

मैरी ने कई बार बच्चों से बाहर आने के लिए कहा लेकिन उन्होंने गाड़ी से बाहर आने से मना कर दिया। जब मैरी के बार-बार बुलाने पर भी बच्चे बाहर नहीं आए तो उसे गुस्सा आ गया। दोनों बच्चों को सबक सिखाने के लिए मैरी ने गाड़ी का दरवाजा बाहर से बंद कर दिया और वह घर के अंदर चली गई। इसके बाद मैरी दो तीन घंटे तक सोई। जब वह सोकर उठी तो वह बच्चों को देखने के लिए गाड़ी तक गई जहां उसने देखा कि दोनों बच्चे अंदर मृत पड़े थे। यहां का तापमान इतना गरम था कि बच्चे उसे सहन नहीं कर पाए और उनकी मौत हो गई। इसके बाद मैरी ने गाड़ी की एक खिड़की तोड़कर बच्चों को बाहर निकाला जिससे कि पुलिस को लगे की यह हत्या नहीं हादसा था। पुलिस ने शुक्रवार को मैरी के खिलाफ केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.