December 07, 2016

ताज़ा खबर

 

सीपीसी का फरमान, पार्टी सदस्यों को ‘कामरेड’ कहकर बुलाया जाए

एक दूसरे को ‘कामरेड’ कहकर संबोधित करने के निर्देश की हालांकि विश्लेषकों ने आलोचना की।

Author बीजिंग | November 20, 2016 20:45 pm
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है। (चीन का राष्ट्रीय ध्वज)

चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीसी) ने रविवार (20 नवंबर) को अपने 8.875 करोड़ सदस्यों से एक दूसरे को ‘कामरेड’ कहकर संबोधित करने को कहा। माओत्सेतुंग युग में साम्यवादी माहौल में एक दूसरे को संबोधित करने के लिए यही शब्द प्रयोग किया जाता था जिसे समलैंगिक समुदाय से संदेहात्मक संबंधों को लेकर हटा दिया गया था। लिखित दिशानिर्देश में कहा गया कि पार्टी के अंदर सभी सदस्य अब एक दूसरे को कामरेड कहकर संबोधित करें। हांगकांग स्थित ‘साउथ चाइना मोर्निंग पोस्ट’ ने खबर दी कि सीपीसी के सदस्यों से एक दूसरे को कामरेड कहकर संबोधित करने के लिए कहने वाला लिखित दिशानिर्देश पार्टी द्वारा जारी किया गया।

खबर में कहा गया कि हालांकि आज के समय में ऐसा पुराना संबोधन भ्रम पैदा कर सकता है चूंकि कामरेड शब्द या चीन की भाषा में ‘टोंगझी’ समलैंगिकों के संदर्भ में भी प्रयुक्त होता है। नया निर्देश ऐसे समय जारी किया गया जब चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग को सीपीसी की पिछले महीने हुई पूर्ण सत्र की बैठक में ज्यादा शक्तिशाली नेता बनाकर उन्हें माओ और सुधारवादी नेता तंग श्याओपिंग तथा उनके उत्तराधिकारी च्यांग चेमिन के बराबर लाकर खड़ा कर दिया। एक दूसरे को ‘कामरेड’ कहकर संबोधित करने के निर्देश की हालांकि विश्लेषकों ने आलोचना की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 20, 2016 8:45 pm

सबरंग