April 26, 2017

ताज़ा खबर

 

चीनी अखबार ने की नरेंद्र मोदी की आलोचना, लिखा- भारत सिर्फ भौंक सकता है, बराबरी नहीं कर सकता

भारत द्वारा चीनी सामान का विरोध करने पर चीनी मीडिया ने इसपर एक लेख लिखा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग। (फाइल फोटो)

भारत द्वारा चीनी सामान का विरोध करने पर चीनी मीडिया ने इसपर एक लेख लिखा। लेख में लिखा गया कि सोशल मीडिया पर भारत के लोगों द्वारा दिखाई जा रही गर्मजोशी बेकार है क्योंकि भारत में बना समान चीन के सामान को टक्कर नहीं दे सकता। चीन अखबार ग्लोबल टाइम्स के लेख में लिखा गया, ‘भारतीय अथोरिटी को भारत-चीन के बीच व्यापार घाटे में बारे भौंकने दिया जाना चाहिए। लेकिन असलियत यही है कि वह इसको लेकर कुछ कर नहीं सकते।’ इतना ही नहीं लेख में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘मेक इन इंडिया’ को भी ‘असंभव’ बताया गया। साथ ही चीन की कंपनियों को भी भारत में निवेश ना करने की सलाह दी गई। लिखा गया कि भारत में निवेश करना ‘सुसाइड’ करने जैसा है क्योंकि वहां (भारत) भ्रष्टाचार काफी ज्यादा है। लेख में भारत का मजाक उड़ाते हुए यह भी लिखा गया कि भारत अभी सड़क-हाईवे बनाने जैसी परेशानियों से ही जूझ रहा है।

वीडियो: चीन NSG पर भारत का समर्थन करने के लिए तैयार लेकिन मसूद अज़हर को बैन करने के खिलाफ

लेख में अमेरिका का भी जिक्र किया गया। उसमें लिखा गया कि अमेरिका किसी का दोस्त नहीं है वह बस चीन की तरक्की देखकर जलता है। वहीं भारत के बारे में आगे लिखा गया कि भारत के पास काफी पैसा है लेकिन वह पैसा कुछ लोगों तक ही सीमित है। जिसमें राजनेता, ब्यूरोक्रेट और कुछ पूंजीपति शामिल हैं। साथ ही लिखा गया कि भारत के पूंजीपति भी भारत में निवेश नहीं करना चाहते।

Read Also: Video: मसूद अजहर को आतंकी घोषित करने पर किया सवाल तो हंसने लगे पूर्व चीनी राजदूत, बोले- मुझे तुम्हारी बात..

गौरतलब है कि चीन ने जैश ए मोहम्मद के आतंकी मसूद अजहर को अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित करने में भारत की कोशिशों को नाकाम कर दिया था। तब से ही भारत में कई संगठन चीन के विरोध में आ गए हैं। संगठन लोगों से अपील कर रहे हैं कि चीन का सामान ना खरीदें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 19, 2016 2:10 pm

  1. H
    harish nanadan
    Oct 19, 2016 at 12:16 pm
    मित्रों चाहे कोई जो कहे हम तो चिनी माल और साढू का नाता इन दोनों को टिकाउ नहीं मानते हैं
    Reply
    1. P
      pradeep naudiyal
      Oct 19, 2016 at 10:22 am
      Agree ham kuch nahi kar sakte sirf bhonk sakte hai
      Reply
      1. i
        indian(ncr)
        Oct 19, 2016 at 9:31 am
        cheen ko ab jaakar koi takkar dene ke liye pahli bar koi neta bharat ko mila hai pichhle 2 saal mein hi china ke saaman ki bikkri kam hone ki bajah se china par asar dikhne laga hai thoda aur ruko china ki bhi phatkar haath peaa jayegi. abhi china stan ko god mein lekar ghoom raha hai jab yehi staani china mein bhi bomb blast karenge tab jakar china ko bhi pata chaljayega.
        Reply
        1. P
          Permnath Vishwakarma
          Oct 19, 2016 at 10:53 am
          हम लोग कहते है दोष लगाते और फिर जब मौका आता है तो बिल में छुप जाते है दोष दुसरो पर जड़ देते है , चीन हमसे आगे क्यों है वहां का हर वो आदमी टेक्स देता है जो टेक्स के दायरे में आता है , हिंदुस्तान में आधी सेलरी तो लोग न०. २ में लेते है ताकि टेक्स नहीं देना पड़े, परचून का दुकानदार रोज लाखो रुपया का सामान बेचता है बिना टेक्स के, क्या कभी हम उससे बिल मागते है,सब कुछ मोदी जी नहीं कर सकते,उनको सबका सपोर्ट चाहिए,लोग रोज १०० रूपये का पान खा कर थूक देते है,लेकिन १०० रूपये महीने की सब्सिडी नहीं छोड़ेंगे
          Reply
          1. P
            preetpal
            Oct 19, 2016 at 10:15 am
            चीनीओं ने देश को आइना दिखाया है. क्या ये सच नहीं की देश में करप्शन है. कुछ लोगों के पास सारी संपत्ति है. पूंजीपति देश के बाहर पैसा लगा रहे है. जुेबाज मोदीजी को इस पर काम करना चाहिए.
            Reply
            1. R
              rameshwar
              Oct 19, 2016 at 10:46 am
              सपने देखना बंद कीजिये, ईमानदारी से मेहनत कीजिये और देश सेवा कीजिये | देशवासियों को आपस में लड़ाना छोड़िये और कुछ व्यापारियों की सेवा छोड़ देश की जनता की सेवा कीजिये | बुलेट ट्रैन छोड़िये, पैसेंजर ट्रैन की सुविधाएं बढाइये | यही भारत के विकास का मूल मंत्र है | चीन और अमेरिका अपनी सोंचते हैं पर हम उनकी, यह क्या बात हुई | भारत में छमता की कमी नहीं पर नेता ईमानदार नहीं इस सच्चाई से मत भागिए, आपके और मेरे बच्चों का भविष्य हमारी सोंच और कर्म पर निर्भर है |
              Reply
              1. V
                Vishnu Mohan
                Oct 20, 2016 at 10:19 am
                Please dont make fool of us with such provoking write up content=buffer7b9e7&utm_medium=social&utm_source=twitter&utm_campaign=buffer
                Reply
                1. V
                  Vishnu Mohan
                  Oct 20, 2016 at 9:59 am
                  Which Paper ? Any link.
                  Reply
                  1. Load More Comments

                  सबरंग