ताज़ा खबर
 

चीन: वेबसाइट का संपादक हिरासत में, सरकार के ख़िलाफ़ अशांति फैलाने का आरोप

मिनशेंग गुआंचा की स्थापना 2006 में हुई थी और इसने मानवाधिकारों के उल्लंघन से संबंधित कई ऐसे मुद्दों को उठाया था जिसे चीन की सरकारी मीडिया ने अनेदखा कर रखा था।
Author बीजिंग | November 25, 2016 14:24 pm
चित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है।

चीन में मानवाधिकारों से संबंधित मुद्दों पर निगरानी रखने वाली एक वेबसाइट के संपादक को देश की सरकार के खिलाफ अशांति फैलाने के संदेह पर हिरासत में ले लिया गया है। वेबसाइट पर की गई एक घोषणा के अनुसार चीन के सुजहाऊ शहर में वेबसाइट मिनशेंग गुआंचा के संस्थापक, लिउ फेइयु को इस महीने के शुरू में पुलिस अपने साथ ले गई थी। वेबसाइट पर बताया गया है कि लिउ के परिवार से कहा गया था कि उसके खिलाफ देश की सरकार के खिलाफ अशांति फैलाने के आरोपों की जांच की जा रही है। चीन में अक्सर ही मानवाधिकार कार्यकर्ताओं और सरकार से असहमत होने वाले लोगों के खिलाफ इस तरह के आरोप लगाये जाते रहे हैं। मिनशेंग गुआंचा की स्थापना 2006 में हुई थी और इसने मानवाधिकारों के उल्लंघन से संबंधित कई ऐसे मुद्दों को उठाया था जिसे चीन की सरकारी मीडिया ने अनेदखा कर रखा था। लिउ ने चीन में सरकार से असहमत होने वाले लोगों और कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिये जाने के बारे में खबरें प्रकाशित की थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग