ताज़ा खबर
 

चीन ने पानी में उतारा 10,000 टन वजनी भारी जहाज, अत्‍याधुनिक हथियारों से है लैस

वैश्विक नौसैन्य ताकत बनने की दिशा में बड़े पैमाने पर विस्तार के तहत चीनी नौसेना ने आज नयी पीढ़ी के अपने सबसे बड़े और 10,000 टन वजनी विध्वंसक पोत का जलावतरण किया।
Author नई दिल्ली | June 28, 2017 18:16 pm
(PTI)

वैश्विक नौसैन्य ताकत बनने की दिशा में बड़े पैमाने पर विस्तार के तहत चीनी नौसेना ने आज नयी पीढ़ी के अपने सबसे बड़े और 10,000 टन वजनी विध्वंसक पोत का जलावतरण किया। चीनी नौसेना के इस नए विध्वंसक पोत का डिजाइन और निर्माण घरेलू स्तर पर किया गया है। इसका शंघाई के जियांगनान शिपयार्ड :ग्रुप: में जलावतरण किया गया। सरकारी समाचार एजेंसी ‘शिन्हुआ’ की खबर के अनुसार यह जहाज चीन के नयी पीढ़ी के विध्वंसक जहाजों में से पहला है। यह नई वायु रक्षा प्रणाली, मिसाइल रोधी, पोत रोधी एवं पनडुब्बी रोधी हथियारों से लैस है। यह जहाज देश की नौसैन्य शस्त्र प्रणाली में सुधार और नौसेना को मजबूत एवं आधुनिक बनाने की दिशा में मील का पत्थर साबित होगा। योजना के अनुसार, जहाज पर कई परीक्षण किये जाएंगे।

हालांकि हमारे भारत में भी  विध्वंसक पोत है, जो  एक भारतीय बहु-कैलिबर एन्टी मटेरियल राइफल (एएमआर) या बड़े कैलिबर स्नाइपर राइफल है। इसे आयुध निर्माणी तिरुचिरापल्ली द्वारा निर्मित इसे किया गया है। यह दुश्मन बंकरों, हल्के बख्तरबंद वाहनों, रडार प्रणाली, संचार उपकरण, खडे विमान, ईंधन भंडारण सुविधाओं आदि को नष्ट करने के लिए एन्टी मटेरियल भूमिका में इस्तेमाल किया जा सकता है

बता दें कि देश में निर्मित सबसे बड़ा और शक्तिशाली विध्वंसक पोत आईएनएस कोच्चि भारतीय नौसेना में शामिल हो चुका है। रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर मुंबई में INS कोच्चि को सेना के बेड़े में शामिल किया था।  INS कोच्चि देश में निर्मित सबसे बड़ा जंगी जहाज है। यह कोलकाता श्रेणी (परियोजना 15 ए) का दूसरा ‘गाइडेड मिसाइल डेस्ट्रोयर’ जहाज है और अपनी श्रेणी में दुनिया के सबसे बेहतरीन विश्वंसक जहाजों में से एक है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग