December 10, 2016

ताज़ा खबर

 

NSG में गै़र-एनपीटी देशों को शामिल करने से पहले चीन निकालेगा हल

जून में सोल में हुई 48 सदस्यीय एनएसजी की बैठक में अमेरिका के मजबूत समर्थन के बावजूद चीन ने भारत की कोशिश में अड़ंगा लगा दिया था।

Author बीजिंग | November 1, 2016 21:08 pm
चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग (एपी फोटो)

चीन ने मंगलवार (1 नवंबर) को कहा कि वह पहले एक हल तलाशेगा जो एनएसजी में प्रवेश चाह रहे सभी गैर एनपीटी देशों पर लागू होगा और इसके बाद भारत की अर्जी पर चर्चा करेगा। गौरतलब है कि एक दिन पहले ही दोनों देशों ने परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनएसजी) में भारत के प्रवेश की कोशिश पर वार्ता की है। चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने यहां एक मीडिया ब्रीफिंग में बताया कि दोनों देशों ने एनएसजी को विस्तारित किए जाने और अन्य संबद्ध मुद्दों पर विचारों का आदान प्रदान किया। उन्होंने भारत और चीन के बीच सोमवार (31 अक्टूबर) हुई दूसरे दौर की वार्ता के बारे में जानकारी देते हुए यह कहा। यह वार्ता संयुक्त सचिव (निरस्त्रीकरण एवं अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा) अमनदीप सिंह गिल और उनके चीनी समकक्ष वांग कुन के बीच हुई।

हुआ ने बताया, ‘एनएसजी में भारत को शामिल किए जाने पर, मैं आपसे कह सकता हूं कि चीन का रुख बहुत साफ और निरंतर एक सा है। चीन गैर एनपीटी (परमाणु अप्रसार संधि) सदस्य देशों को एनएसजी में शामिल किए जाने को अहमियत देता है।’ उन्होंने बताया, ‘हम सोल आम सभा पर आधारित प्रासंगिक कार्य और अंतर सरकारी प्रक्रिया करेंगे जो खुली और पारदर्शी है।’ हुआ ने कहा, ‘हम एक हल तलाशेंगे जो सभी गैर एनपीटी देशों पर लागू होगा और फिर हम संबद्ध गैर एनपीटी देश की खास अर्जी पर चर्चा करेंगे।’

हालांकि, उन्होंने पाकिस्तान का जिक्र नहीं किया। इस देश ने भी भारत के साथ एनएसजी की सदस्यता के लिए अर्जी दी है। हुआ ने कहा, ‘हम इस सिलसिले में भारत के साथ बातचीत और संपर्क जारी रखना चाहते हैं।’ गौरतलब है कि जून में सोल में हुई 48 सदस्यीय एनएसजी की बैठक में अमेरिका के मजबूत समर्थन के बावजूद चीन ने भारत की कोशिश में अड़ंगा लगा दिया था। चीन ने इसके पीछे यह तर्क दिया था कि भारत एनपीटी का सदस्य नहीं है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 1, 2016 8:52 pm

सबरंग