December 08, 2016

ताज़ा खबर

 

नई लैंबोर्गिनी कार खरीदने के लिए नहीं थे 10 करोड़ रुपए, पुरानी कारों से बना डाली खुद की “लैंबोर्गिनी”

इसके लिए उन्होंने पुरानी कारों का अलग-अलग हिस्सा लेकर एक कार तैयार की। उन्होंने Mitsubishi Eclipse कार की बॉडी ली, Mitsubishi Galant की 3.0 लीटर इंजन लिया और कुछ अन्य कारों के हिस्से से नई कार तैयार की।

कार पर सेलमानी ने 35 हजार डॉलर (करीब 23 लाख रुपए) खर्च किए हैं। (Photo: AP)

दुनिया की सबसे महंगी कारों में से एक लैंबोर्गिनी कार है। हर कार पंसद शख्स का सपना होता है कि वह लैंबोर्गिनी खरीद सके, उसे चला सके। लेकिन इसकी कीमत इतनी है कि इसे चला पाना अधिकतर लोगों का सपना ही रह जाता है। लेकिन स्वतंत्र राष्ट्र कोसोवो के रहने वाले एक शख्स ने पैसे ना होते हुए भी अपने इस सपने को पूरा किया। दरअसल कार प्रेमी ड्रिटोन सेलमानी ने सेकेंड हैंड कार को ही लैंबोर्गिनी का लुक दे दिया। हूबहू लैंबोर्गिनी जैसी दिखने वाली यह कार लोगों की नजर में आने के बाद से ही ड्रिटोन काफी सुर्खियों में हैं।

दरअसल पूर्वी कोसोवो के एक शहर Gjilan में रहने वाले ड्रिटोन एक कार गैराज के मालिक हैं। उन्हें कार मोडिफाई करने का काफी शौक है और वह इसमें माहिर हैं। लैंबोर्गिनी हमेशा से उनकी पसंदीदा कार रही है, लेकिन उनके पास इतने पैसे नहीं थे कि इसे खरीदकर चला सकें। इसलिए उन्हें खुद की लैंबोर्गिनी कार बनाने का फैसला किया। इसके लिए उन्होंने पुरानी कारों का अलग-अलग हिस्सा लेकर एक कार तैयार की। उन्होंने Mitsubishi Eclipse कार की बॉडी ली, Mitsubishi Galant की 3.0 लीटर इंजन लिया और कुछ अन्य कारों के हिस्से से नई कार तैयार की।

वीडियो: दिल्‍ली के आसमान पर छाई कोहरे की काली चादर, खतरे की घंटी बना बढ़ता प्रदूषण

एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, कार पर सेलमानी ने 35 हजार डॉलर (करीब 23 लाख रुपए) खर्च किए हैं। वहीं इस लैंबोर्गिनी Reventon की असल कीमत 1.5 मिलियन डॉलर (10 करोड़ रुपए) है। ड्रिटोन सेलमानी को लैंबोर्गिनी Reventon की नकल तैयार करने में एक साल से ज्यादा का समय लगा। सेलमानी ने बताया कि उनके दोस्तों और परिवार वालों को यह कार बेहद पसंद आई। उन्होंने बताया कि कार बिलुकल ऑरिजनल लैंबोर्गिनी जैसी तो नहीं है, इसका इंजन और स्पीड भी कम है। हालांकि कार का लुक और ऊपर खुलने वाले दरवाजे ऐसे ही हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 7, 2016 12:07 pm

सबरंग