ताज़ा खबर
 

बीएसएफ-रेंजर्स की बैठक में भारत ने पाक से घुसपैठ पर रोक लगाने को कहा

मादक पदार्थों की तस्करी पर शिंकजा कसने की खातिर चौकसी बढ़ाने तथा सीमा पार से होने वाली घुसपैठ पर प्रभावशाली तरीके से रोक लगाने को कहा।
Author नई दिल्ली | July 28, 2016 21:13 pm
प्रतीकात्मक चित्र

भारत ने सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) और पाकिस्तान रेंजर्स के बीच गुरूवार को लाहौर में खत्म हुई द्विपक्षीय वार्ता के दौरान पाकिस्तान से आतंकी गतिविधियों को रोकने एवं मादक पदार्थों की तस्करी पर शिंकजा कसने की खातिर चौकसी बढ़ाने तथा सीमा पार से होने वाली घुसपैठ पर प्रभावशाली तरीके से रोक लगाने को कहा।

बीएसएफ ने एक बयान में कहा कि दोनों पक्षों के सीमा पर शांति बनाए रखने के लिए लगातार कोशिशें करने पर सहमत होने के साथ वार्ता एक ‘‘आशावादी रूख ’’ के साथ खत्म हुई। दोनों सीमा रक्षा बल इस बात पर सहमत हुए कि पिछले साल सितंबर के बाद से अंतरराष्ट्रीय सीमा पर संघर्ष विराम का बेहतर पालन हुआ है। बीएसएफ के महानिदेशक के के शर्मा और पाक रेंजर्स :पंजाब: के महानिदेशक मेजर जनरल उमर फारूक बुर्की ने चार दिनों की बैठक के अंत में चर्चाओं के एक संयुक्त दस्तावेज पर हस्ताक्षर किए। बैठक 25 जुलाई को पाकिस्तान के लाहौर में रेंजर्स के मुख्यालय में शुरू हुई थी।

बयान के अनुसार, ‘‘बीएसएफ के डीजी :शर्मा: ने आतंकी गतिविधियों एवं मादक पदार्थों की तस्करी को रोकने के लिए सीमा पार से होने वाली घुसपैठ को लेकर सतर्कता बरतने के महत्व पर जोर दिया। दोनों पक्षों ने सीमा के अपने अपने तरफ सीमा गश्ती के समन्वय के उपायों को मजबूत करने और समयबद्ध तरीके से एक दूसरे की चिंताओं पर ध्यान देने के तरीकों पर चर्चा की।’’

समझा जाता है कि वार्ता के दौरान भारतीय पक्षों ने मादक पदार्थों की खेप के साथ हथियारों एवं गोला बारूद की सीमा पार तस्करी, अंतरराष्ट्रीय सीमा पार से आ रही अवैध सुरंगों के पाए जाने और इन इलाकोंं में सरकंडा के बढ़ने तथा उसकी झाड़ियों को हटाने से संबंधित मुद्दे उठाए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.