December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

ब्रेग्जिट पर मंत्रियों को एकजुट करने की कोशिश करेंगी ब्रितानी प्रधानमंत्री थेरेसा मे

इंग्लैंड-वेल्स ने यूरोपीय संघ छोड़ने के पक्ष में मतदान किया था, वहीं स्कॉटलैंड-उत्तरी आयरलैंड के अधिकतर लोगों ने इस ब्लॉक में बने रहने के लिए मतदान किया था।

Author लंदन | October 24, 2016 12:55 pm
चीन में आयोजित जी20 शिखर सम्मेलन के दौरान ब्रितानी प्रधानमंत्री टेरेसा मे। (September 4, 2016/ REUTERS/Nicolas Asfonri)

ब्रितानी प्रधानमंत्री थेरेसा मे सोमवार (24 अक्टूबर) को स्कॉटलैंड, वेल्स और उत्तरी आयरलैंड के प्रथम नेताओं से मुलाकात करेंगी और इस बैठक में वह सरकार की ब्रेग्जिट नीतियों पर प्रत्येक क्षेत्र की ओर से मतदान कराए जाने की मांगों का सामना करेंगी। ब्रिटेन का यूरोपीय संघ छोड़ने का फैसला इस बैठक के केंद्र में रहेगा। यह बैठक अगले साल ब्रसेल्स के साथ औपचारिक वार्ताएं शुरू होने से पहले हो रही है। थेरेसा स्कॉटलैंड की प्रथम मंत्री निकोला स्टर्जन, वेल्स के प्रथम मंत्री कार्वेन जोन्स और उत्तरी आयरलैंड की प्रथम मंत्री अरलेन फोस्टर और उनकी उपमंत्री मार्टिन मैकगिनीज के साथ मुलाकात करेंगी। अलगाववादी स्कॉटिश नेशनल पार्टी की नेता स्टर्जन 23 जून के मतदान के बाद से प्रथम मंत्रियों में बेहद मुखर रही हैं। इस माह की शुरुआत में उन्होंने मांग की थी कि यदि ब्रेग्जिट की वार्ताओं में स्कॉटलैंड के हितों का संरक्षण नहीं होता है तो स्कॉटलैंड की आजादी पर ताजा जनमत संग्रह कराया जाना चाहिए।

इंग्लैंड और वेल्स ने यूरोपीय संघ छोड़ने के पक्ष में मतदान किया था, वहीं स्कॉटलैंड और उत्तरी आयरलैंड के अधिकतर लोगों ने इस ब्लॉक में बने रहने के लिए मतदान किया था। इस बैठक से पहले थेरेसा को लिखे पत्र में स्टर्जन ने प्रत्येक संसद को ब्रेग्जिट योजनाओं पर मतदान का मौका देने के लिए कहा था। प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने कहा है कि वह यूरोपीय संघ छोड़ने की औपचारिक प्रक्रियाएं मार्च के अंत से शुरू करेंगी, जिसके बाद दो साल की वार्ता अवधि शुरू होगी। डाउनिंग स्ट्रीट ने अपनी योजनाओं के बारे में विस्तार से नहीं बताया है लेकिन यह संकेत दिए हैं कि ‘ब्रेग्जिट कठिन’ रहने वाला है, जिसके तहत ब्रिटेन आव्रजन पर ज्यादा नियंत्रण हासिल करने के लिए एकल बाजार छोड़ देगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 24, 2016 12:55 pm

सबरंग