December 10, 2016

ताज़ा खबर

 

आतंकी संगठन IS का खात्मा करेगी यह महिला फौज, जानिए इनसे क्यों डरते हैं जिहादी लड़ाके

यजीदी महिलाओं के इस ग्रुप का नाम सिंजार वुमन युनिट (YJS) है, जिसे कुर्दिश लड़ाकों ने ट्रेनिंग दी है।

इन महिला फाइटर्स में से ज्यादातर की उम्र 18 से 25 साल के बीच की है।

इराक और सीरिया में अपना आतंक फैला चुके आतंकी संगठन आईएस का खत्मा करने के उद्देश्य से महिलाओं की एक फौज तैयार हुई है। यजीदी महिलाओं के इस ग्रुप का नाम सिंजार वुमन युनिट (YJS) है, जिसे कुर्दिश लड़ाकों ने ट्रेनिंग दी है। यह फौज आईएस पर हमला करके अपनी यजीदी महिला साथियों का बदला लेना चाहती है, जिन्हें इस आतंकी संगठन ने सेक्स स्लेव बनकार रखा था। कुर्दिश महिला यूनिट की एक कमांडर ने बताया, “मौसूल के बाजार में बेची गई और जिंदा जलाई गई यजीदी महिलाओं को हम नहीं भूल सकते। हम जानते हैं कि आईएस द्वारा बंधक बनाए गए लोग इंतजार कर रहे हैं कि हम कब उन्हें छुड़ाएंगे। हम तब तक नहीं रुकेंगे जब तक महिलाओं पर किए गए अत्याचार का बदला नहीं ले लेते।”

बता दें कि 2014 के बाद इराक के सिंजार इलाके समेत बड़े हिस्सा पर कब्जा कर चुके आतंकी संगठन आईएस ने यजीदी महिलाओं पर लगातार अत्याचार किया है। जहां हजारों महिलाओं को मार दिया गया, वहीं जो बच गई उन महिलाओं व लड़कियों को जिहादियों ने सेक्स स्लेव बनाकर रखा। इसके बाद बहुत से यजीदियों ने सिंजार को आजाद कराने के लिए आईएस के खिलाफ जंग शुरू की।

खात बात है कि जिहादी लड़ाकों को इनसे मारे जाने का भी बड़ा खौफ रहता है। दरअसल आईएसआईएस आतंकियों का विश्वास है कि अगर किसी महिला के हाथों उनकी मौत होती है तो उन्हें जन्नत नसीब नहीं होगी। इन महिला फाइटर्स में से ज्यादातर की उम्र 18 से 25 साल के बीच की है। इनमें से बहुत सी ऐसी महिलाएं भी हैं, जिनका घर-परिवार है। ये फाइटर्स कुर्दिस्तान के अलग-अलग हिस्सों से आई हैं, लेकिन ये सब कुर्दिश ही बोलती हैं। ये आपस में सभी एक-दूसरे को कामरेड कहकर संबोधित करती हैं, जिसका मतलब है कि वो हर चुनौती का सामना मिलकर करेंगी।

बाकी ताजा खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

कानपुर रेल हादसा: 142 की मौत की पुष्टि, रेस्कयू ऑपरेशन खत्म

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 21, 2016 1:05 pm

सबरंग