ताज़ा खबर
 

दक्षिण कोरियाई सेना में समलैंगिकों के घुसने का खतरा, अश्लील वीडियो सामने आने पर तेज हुई खोजने की कवायद

उन्होंने कहा कि जांच के दौरान अगर यह पता चलता है कि उन जवानों ने भी साथी जवानों के साथ शारीरिक संबंध बनाए हैं तो उनपर कानूनी कार्रवाई की जाएगी और दोषी पाए जाने पर दो साल की जेल की सजा सुनाई जाएगी।
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

दक्षिण कोरिया को अपनी सेना में समलैंगिकों के घुसने का खतरा सता रहा है। हाल ही में दक्षिण कोरियाई सेना में समलैंगिक जवनों का एक अश्लील वीडियो सामने आया था जिसे लेकर सेना सख्ते में आ गई है। सेना के उच्च अधिकारियों ने आदेश दिए हैं कि समलैंगिकोंं की खोज करके उन्हें सेना से निकाला जाए। प्राप्त जानकारी के अनुसार जो वीडियो वायरण हुआ था उसमें दो सेना के जवान शारीरिक संबंध बनाते हुए दिखाई दिए थे। इस मामले के सामने आने के बाद अधिकारियों ने जांच शुरु कर दी है।  अधिकारी ने बताया कि जवानों के फोन जब्त कर लिए गए हैं। अधिकारी ने कहा कि जवानों के फोन रिकॉर्ड की जांच की जा रही है और साथ ही ऐसी डेटिंग ऐप की भी जांच की जा रही है जो जवानों को फंसाने का काम करती हैं।

अधिकारी ने बताया कि इनके अलावा और भी ऐसे जवानों की पहचान की जा रही है जो कि समलैंगिक हैं। उन्होंने कहा कि जांच के दौरान अगर यह पता चलता है कि उन जवानों ने भी साथी जवानों के साथ शारीरिक संबंध बनाए हैं तो उनपर कानूनी कार्रवाई की जाएगी और दोषी पाए जाने पर दो साल की जेल की सजा सुनाई जाएगी। इसके साथ ही सेना ने खुद पर लगे उन आरोपों को भी खारिज किया, जिनमें कहा गया था कि सेना समलैंगिक जवानों को निकालने के लिए इस केस की आड़ ले रही है।

आपको बता दें कि दक्षिण कोरियाई सेना समलैंगिक जवानों की भर्ती करने से परहेज करती है, क्योंकि एक बार कोई समलैंगिक सेना में आ जाता है तो उसे खतरा समझकर उसके साथ आपराधियों जैसा सलूक किया जाता है।  इस मामले पर बात करते हुए एलजीबीटी के एक वकील ने बताया कि समलैंगिक लोगों के साथ घृण अपराध वैसे ही देश में एक बहुत गंभीर मुद्दा है और अब सेना द्वारा समलैंगिक जवानों के साथ इस प्रकार का व्यवहार किए जाने से एक गलत संदेश देश में पहुंच रहा है।

देखिए वीडियो - साउथ कोरिया की राष्ट्रपति पार्क गेन-हुई पद से हटाईं गईं; संवैधानिक न्यायालय ने लिया फैसला

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.