ताज़ा खबर
 

प्रेमी पर डोरे डालने से गुस्‍साई नाबालिग लड़कियों ने सहेली को कब्र में डाल डंडों से पीटा, चाकू से गोदा

ब्राजील में पुलिस ने चार नाबालिग लड़कियों को गिरफ्तार किया है। इन्‍होंने एक हमउम्र लड़की को अफेयर में प्रतिद्वंदी होने के चलते मारा-पीटा।
ब्राजील में पुलिस ने चार नाबालिग लड़कियों को गिरफ्तार किया है। इन्‍होंने एक हमउम्र लड़की को अफेयर में प्रतिद्वंदी होने के चलते मारा-पीटा।

ब्राजील में पुलिस ने चार नाबालिग लड़कियों को गिरफ्तार किया है। इन्‍होंने एक हमउम्र लड़की को अफेयर में प्रतिद्वंदी होने के चलते मारा-पीटा। इन्‍होंने घटना का वीडियो भी मोबाइल फोन पर शूट किया। इन लड़कियों की उम्र 13 से 16 साल के बीच है। आरोपी लड़कियों ने एक 14 साल की लड़की के हाथ-पैर बांध दिए और फिर कम गहराई वाली कब्र में डालकर घसीटा। साथ ही सिर और शरीर पर लगभग चार घंटे तक डंडे व चाकू से वार किए। आरोपी लड़कियां जब हाथों पर लगे खून के धब्‍बे धोने के लिए गईं तो पीडि़ता बचकर भागी और स्‍थानीय लोगों से मदद मांगी। उसने लोगों को घटना का ब्‍यौरा दिया।

पुलिस को आरोपी चार लड़कियों में से एक के मोबाइल में घटना का वीडियो मिला है। आरोपी लड़कियां पीडि़ता को पार्टी के बहाने बगीचे में ले गईं और फिर हमला किया। पीडि़ता ने बताया, ”उन्‍होंने मुझे अपने घर के पास बुलाया और जब मैं वहां पहुंची तो मुझे मारने लगी। उन्‍होंने मुझे बांध दिया और वह जगह दिखाई जहां मुझे दफनाने वाली थी। इसके बाद मुझे चाकू मारा और एक गड्ढ़े में डाल दिया। मुझे लगा मैं वहां मरने वाली हूं।” पुलिस चीफ रेनेटा वियरा ने बताया कि घटना के बीच मुख्‍य कारण ईर्ष्‍या था। गिरफ्तार की गई लड़कियों ने बताया कि पीडि़ता एक लड़के को अपनी ओर लुभा रही थी। यह हमलावर लड़कियों में से एक का बॉयफ्रैंड था। ये सभी लड़कियां एक ही स्‍कूल में पढ़ा करती थीं।

पुलिस के अनुसार एक लड़की ने स्‍वीकार किया कि वे पीडि़ता को मारना चाहती थीं। लेकिन उनकी लापरवाही के कारण ऐसा नहीं हो पाया। आरोपी लड़कियों को जांच पूरी होने तक रिमांड पर भेज दिया गया है। मामले की सुनवाई कर रही जज ने कहा कि पूरी घटना डरावनी है। लड़कियों को तीन साल तक सुधार गृह में रखे जाने की सजा हो सकती है। वहीं मामले के सामने आने के बाद आरोपी लड़कियों को सोशल मीडिया पर जान से मारने की धमकियां भी दी जा रही हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग