ताज़ा खबर
 

कांगो में विस्फोट से 32 भारतीय शांति सैनिक घायल, एक बच्चे की मौत

कांगो में इस समय संयुक्त राष्ट्र मिशन के तहत विभिन्न देशों के 18 हजार शांति सैनिक तैनात हैं। यह शांतिरक्षक आपसी संघर्ष को रोकने के लिए तैनात किए गए हैं।
कांगो गणराज्य

कांगो गणराज्य के पूर्वी क्षेत्र गोमा में मंगलवार को एक विस्फोट से एक बच्चे की मौत हो गई और भारतीय शांति सेना के 32 सैनिक घायल हो गये। संयुक्त राष्ट्र मिशन ने यहां जारी एक बयान में कहा कि यह विस्फोट पश्चिमी गोमा क्षेत्र में सुबह हुआ जिससे ड्यूटी पर तैनात 32 भारतीय शांति सैनिक घायल हो गए। निकट की एक मस्जिद के इमाम इस्माइल सालूमू ने बताया कि उन्होंने विस्फोट की आवाज सुनी और वह उस स्थान पर गए। इमाम ने बताया कि विस्फोट से तीन शांति सैनिकों की मौत हुई है।

मौके पर मौजूद लोगों का कहना है कि जिस जगह धमाका हुआ वहां भारतीय शांति रक्षक रोज की तरह अभ्यास कर रहे थे। यूएन मिशन के प्रवक्ता ने कहा कि ये पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि इन धमाकों के पीछे किसी स्थानीय समुह का हाथ है या ये कोई आतंकी हमला था। गौरतलब है कि यूएन के पीस कीपिंग मिशन में भारत 17 साल से है। कांगो में इस समय संयुक्त राष्ट्र मिशन के तहत विभिन्न देशों के 18 हजार शांति सैनिक तैनात हैं। यह शांतिरक्षक आपसी संघर्ष को रोकने के लिए तैनात किए गए हैं।

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव 2016: नासा के इस एस्ट्रोनॉट ने अंतरिक्ष से डाला वोट

31 अगस्त 2014 की एक रिपोर्ट के मुताबिक, मिशन में सबसे ज्यादा सैनिक भारत ने खोए हैं। इसमें अब तक 3263 सैनिकों की मौत हुई जिसमें 157 अकेले भारत के थे। इसके बाद नाइजीरिया का नंबर है, जिसके 142 सैनिक मारे गए हैं। डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कांगो में आपसी कलह में 1996 से 2003 के दौरान 10 लाख से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग