December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

इतिहास के 10 सबसे अमीर लोगों में अकबर एकमात्र भारतीय बिल गेट्स एकमात्र जीवित व्यक्ति, जानिए बाकी 8 के बारे में

दुनिया के जिस आदमी को मानवीय इतिहास का सबसे अमीर आदमी माना जाता है उसकी संपत्ति का अनुमान लगाना भी मुश्किल।

मनसा मूसा की एक पेंटिंग (Photo- Wiki Commans, Abraham Cresques )

मानवीय इतिहास का सबसे अमीर आदमी कौन है? ये सवाल जितना सीधा है इसका जवाब उतना ही मुश्किल। राजशाही के दौर में किसी राजा की संपत्ति का अनुमान लगाने का कोई ठोस तरीका नहीं हुआ करता था। आधुनिक भारत में हैदराबाद के निजाम या पटियाला के राजा के अमीरी के किस्से मशहूर हैं, वहीं खाड़ी देशों के शेखों और बादशाहों की संपत्ति के बारे में भी कम कहानियां नहीं प्रचलित हैं। आधुनिक अरबपतियों, खिलाड़ियों और फिल्मी सितारों की विलासिता भरे जीवन के जुड़ी खबरों का भी कोई ओरछोर नहीं है। और दुनिया में अमीरों का रहन-सहन हमेशा ही विलासिता भरा ही रहा है। ऐसे में मानवीय इतिहास के सबसे अमीर लोगों का कोई भी चयन निर्विवाद नहीं हो सकता। लेकिन टाइम मैगजीन ने विभिन्न विशेषज्ञों के अध्ययन के आधार दुनिया के 10 सबसे अमीर लोगों की सूची बनाई थी। आइए देखें पत्रिका ने किन 10 लोगों को माना था मानवीय इतिहास में सबसे अमीर। इस सूची को देखकर हो सकता है आप चौंक जाएं।

चंगेज खान (1162-1227), देश- मंगोलिया साम्राज्य, संपत्ति- ढेर सारी जमीन, बाकी कुछ खास नहीं- चंगेज खान को दुनिया के सबसे सफल सेनानायकों में गिना जाता है। मंगोल साम्राज्य के उरूज के दौर में उसका शासन चीन से लेकर यूरोप तक था। बहुत ज्यादा ताकतवर होने के बावजूद चंगेज खान ने बहुत ज्यादा दौलत नहीं इकट्ठा की थी। विद्वानों के अनुसार उसकी सफलता में उसकी उदारता का बहुत बड़ा हाथ था। वो लूट का माल अपने सैनिकों में बांट देता था। लूट में उसे भी हिस्सा मिलता था लेकिन ज्यादा नहीं। इतिहासकारों के अनुसार चंगेज खां ने अपने कभी कोई महल, मकबरा, मंदिर या घर नहीं बनवाया।

वीडियो:  जानिए अमेरिकी चुनाव से जुड़ी हर जानकारी-

बिल गेट्स ( 1955-), देश- अमेरिका, संपत्ति- 78.9 अरब डॉलर- बिल गेट्स दुनिया के सबसे अमीर जीवित इंसान हैं। फोर्ब्स पत्रिका के अनुसार इस साल तक गेट्स की कुल संपत्ति 78.9 अरब डॉलर है। बिल गेट्स कंप्यूटकर कंपनी माइक्रोसॉफ्ट के मालिक हैं। दुनिया के दूसरे सबसे अमीर आदमी अमानकियो ऑर्टेगा से आठ अरब डॉलर ज्यादा है।

एलैन रफस (1040-1093), देश- इंग्लैंड, संपत्ति- 194 अरब डॉलर- एलैन इंग्लैंड के शासक विलयम द कांकरर का भतीजा था। नार्मन विजय के दौरान वो अपने अंकल के साथ था। उसकी मृत्यु के समय उसके पास 11 हजार पाउंड की संपत्ति थी। डॉलर की तत्कालीन दर के आधार पर लगाए एक अनुमान के मुताबिक 2014 में उसकी संपत्ति 194 अरब डॉलर आंकी गई थी। कुछ अध्यनकर्ताओं के अनुसार उसके पास इंग्लैंड की कुल जीडीपी की सात प्रतिशत संपत्ति थी।

जॉन डी रॉकफेलर (1839-1937), देश- अमेरिका, कुल संपत्ति 341 अरब डॉलर- रॉकफेलर ने तेल उत्पादन के क्षेत्र में 1863 में कदम रखा था और 1880 तक अमेरिका के 90 प्रतिशत तेल उत्पादन पर उनका कब्जा हो चुका था। न्यूयॉर्क टाइम्स में छपे उनके श्रद्धांजलि लेख में उनकी संपत्ति 1.5 अरब डॉलर होने का अनुमान लगाया था। ये अनुमान रॉकफेलर के 1918 में दिए गए आयकर के आधार पर लगाया गया था। डॉलर की तत्कालीन दर के आधार पर 2014 में उनकी संपत्ति 341 अरब डॉलर आंकी गई थी।

एंड्रू कार्नेगी- (1835-1919), देश- अमेरिका, 372 अरब डॉलर- कार्नेगी को अमेरिकी इतिहास का सबसे अमीर आदमी भी माना जाता है। स्कॉटलैंड से आकर अमेरिका में बसने वाले कार्नेगी ने 1901 में अपनी कंपनी यूएस स्टील को जेपी मॉर्गन को 48 करोड़ डॉलर में बेचा था। उस समय ये राशि अमेरिकी जीडीपी के 2 प्रतिशत से थोड़ी अधिक थी। डॉलर की तत्कालीन दर के आधार पर 2014 में उनकी संपत्ति 372 अरब डॉलर आंकी गई थी।

जोसेफ स्टालिन, (1878-1953), देश- सोवियत गणराज्य, संपत्ति- रूस पर संपूर्ण नियंत्रण- जोसेफ स्टालिन विश्व के सबसे बड़ी आर्थिक शक्तियों में गिने जाने वाले देश के तानाशाह थे। उनके पूर्ण नियंत्रण के कारण रूस की संपत्ति और स्टालिन की संपत्ति के बीच अंतर करना मुश्किल है। इसलिए ज्यादातर सर्वे में उन्हें इतिहास के सबसे अमीर लोगों में गिना जाता है।

अकबर (1542-1605), देश- भारत, मुगल साम्राज्य का बादशाह, दुनिया की तत्कालीन जीडीपी के 25 प्रतिशत का मालिक- भारत के मुगल वंश के सबसे महान शासक माने जाने वाले अकबर का दुनिया की कुल जीडीपी की एक चौथाई पर नियंत्रण था। फार्चून मैगजीन की एक रिपोर्ट के अनुसार इतिहासकार अकबर के शासन में भारत की प्रति व्यक्ति जीडीपी एलिजाबेथ कालीन इंग्लैंड के समान थी। हालांकि भारतीय अभिजात्य वर्ग का रहन-सहन यूरोपीय अमीरों की तुलना में ज्यादा विलासिता भरा था।

शेनजॉन्ग, (1048-1085), देश- चीन, दुनिया की कुल तत्कालीन जीडीपी के 25-30 प्रतिशत पर नियंत्रण- चीन के सॉन्ग वंश (960-1279) को मानवीय इतिहास के सबसे शक्तिशाली साम्राज्यों में गिना जाता है। इतिहासकारों के अनुसार सॉन्ग के वंश के राजा शेनजॉन्ग का दुनिया की तत्कालीन जीडीपी के 25-30 प्रतिशत जीडीपी पर नियंत्रण था।

आगस्टस सीजर, 63 ईसा पूर्व – 14 ईसवी, देश- रोम, 4600 अरब डॉलर- रोम के शासक आगस्टस सीजर का दुनिया की तत्कालीन जीडीपी के 25-30 प्रतिशत हिस्से पर आधिपत्य था। इतिहासकार मानते हैं कि उसके राज्य की कुल संपत्ति की करीब 20 प्रतिशत उसकी निजी संपत्ति थी। 2014 में उसकी संपत्ति 4600 अरब डॉलर आंकी गई थी।

मनसा मूसा (1280-1337), देश- माली, संपत्ति- कल्पना से परे- माली के राजा मनसा मूसा को इतिहास का सबसे अमीर आदमी समझा जाता है। उसके पश्चिम अफ्रीकी साम्राज्य को उस समय दुनिया का सबसे बड़ा स्वर्ण उत्पादक देश था। उस समय सोने की मांग पूरी दुनिया में बहुत ज्यादा थी। इतिहासकारों के अनुसार उसकी संपत्ति का अनुमान लगाना मुमकिन नहीं है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 7, 2016 4:33 pm

सबरंग