ताज़ा खबर
 

जनता से थोड़ा बहुत धोखा चलता है, पार्टनर फ‍िर बदलने की गारंटी नहीं दे सकते- देख‍िए, नीतीश का मजाक‍िया इंटरव्‍यू

राजद अध्यक्ष लालू यादव ने ही सबसे पहले नीतीश कुमार को पलटूराम कहा था।
बिहार के सीएम नीतीश कुमार।(PTI file photo)

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जब से महागठबंधन तोड़कर भाजपा के साथ सरकार बनाई है, तब से विरोधी उन्हें राजनीति का पलटूराम कहकर निशाने पर लेते रहे हैं। राजद अध्यक्ष लालू यादव ने ही सबसे पहले नीतीश कुमार को पलटूराम कहा था। उसके बाद से सोशल मीडिया पर भी कई तरह के वीडियो वायरल कर नीतीश कुमार पर व्यंग्य साधा गया। इन दिनों फेसबुक पर इसी तरह का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसे फेकिंग न्यूज की तरफ से पोस्ट किया गया है।

इस वीडियो में नीतीश कुमार के पुराने इंटरव्यू को एडिट कर हंसी-मजाक के लिए नए सिरे से पेश किया गया है। एडिटेड वीडियो में नीतीश कुमार यह कहते दिख रहे हैं कि इसकी कोई गारंटी नहीं है कि भविष्य में वो फिर पार्टनर नहीं बदलेंगे। वो यह कहते हुए भी दिख रहे हैं कि जनता के साथ थोड़ा-बहुत धोखा चलता है।

बता दें कि नीतीश कुमार ने 26 जुलाई को गठबंधन तोड़ते हुए मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। 27 जुलाई को बीजेपी के साथ सरकार बनाई और 28 जुलाई को बिहार विधानसभा में बहुमत साबित किया। उसके बाद 29 जुलाई को नीतीश ने अपने कैबिनेट का विस्तार किया। नीतीश मंत्रिमंडल में कुल 29 लोग हैं। इनमें से 22 लोगों पर आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। नीतीश कुमार ने उप मुख्यमंत्री और राजद अध्यक्ष लालू यादव के बेटे तेजस्वी यादव पर भ्रष्टाचार का दाग लगने के बाद महागठबंधन तोड़ दिया था।

देखिए: नीतीश कुमार का मजाकिया एडिटेड इंटरव्यू

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग