ताज़ा खबर
 

केजरीवाल का बजट पर निशाना, बोले- हमें चंदा कैश मिला तो मोदी-जेटली ने लगवा दी रोक

नो सीरियस न्‍यूज: इस खबर का सच से कोई लेना-देना नहीं है। इसे बस मजे लेने के लिए पढ़ें।
Author February 2, 2017 17:37 pm
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (बाएं) और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।

देश के वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बजट 2017 पेश कर दिया। मंत्री जी पूरे 6251 सेकंड बोलते रहे। बजट से पहले विपक्षी सांसदों ने नारे लगाकर थोड़ा वार्मअप किया और हंगामा करने की परंपरा को जारी रखा। विपक्ष के नारों के बीच जेटली ने बुलेट ट्रेन से भी तेज भाषण पढ़ा। हालांकि उनके भाषण में कई समानताएं दिखी। कुछ लोगों ने उनके भाषण को शरद पवार से जोड़ा तो कई लोगों ने इसे मुलायम सिंह यादव से जोड़ा। क्योंकि जेटली का भाषण किसी को समझ में नहीं आया। लेकिन कांग्रेस के सबसे पढ़े लिखे सांसद राहुल गांधी ने बजट के बाद कहा कि बजट में कुछ नहीं है। राहुल ने ऐसा इसलिए कहा क्योंकि जेटली ने भाषण में गांधी परिवार का नाम नहीं लिया। हालांकि बजट के दौरान राहुल गांधी नहीं दिखे थे। इस पर कांग्रेस ने सफाई दी है कि वो अपनी फटी जेब को सिलवाने गए हुए थे। वहीं कुछ लोगों ने दावा किया है कि राहुल गांधी को दिल्ली के एक एटीएम से पैसे निकालते देखा गया। भले ही राहुल गांधी को बजट के दौरान कही गई बाते समझ में ना आई हो लेकिन उन्होंने सबको एहसास करा दिया कि मोदी राहुल को बेवकूफ समझने की गलती ना करें।

केजरीवाल ने इस बजट को आम आदमी पार्टी विरोधी बताया है केजरीवाल का कहना है कि मोदी सरकार ने चंदा लेने की कैश लिमिट को 2000 कर दिया है जो गलत है। अभी तो उनकी पार्टी को कैश मिलने लगा था। ये बजट पूरी तरह से उनके विरोध में बनाया गया। केजरीवाल इस बजट के विरोध में एक घंटे का फास्ट रखेंगे। उनके इस फास्ट में कुमार विश्वास भी केजरीवाल का साथ देंगे हालांकि उन्होंने साफ किया कि वो फास्ट पर नहीं बैठेंगे। केजरीवाल के अलावा बहन मायावती ने भी बजट के आलोचना की है और कहा है कि जेटली अंग्रेजी में बोल रहे थे ताकी वो इसे समझ ना सकें। बजट को ना समझने के बाद भी बहन मायावती ने कहा कि बजट में खास कुछ नहीं है।

जेटली को मिलेगा अवार्ड- मोदी की बुलेट ट्रेन से भी तेज बोलने के लिए अरुण जेटली को ‘वर्ल्ड मोस्ट फेंकू’ के अवार्ड से नवाजा जाएगा। इस पर कई नेता नाराज बताए जा रहे हैं लालू प्रसाद यादव ने कहा कि जेटली तो कुछ भी नहीं बोलते उनके भाषण के आगे कोई नहीं ठहर सका था।

(यह खबर आपको हंसने-हंसाने के लिए कोरी कल्‍पना के आधार पर लिखी गई है। इसे सीरियसली नहीं लें।)

 

 

बजट 2017: वित्त मंत्री अरुण जेटली का यह बजट अर्थव्‍यवस्‍था के लिए टॉनिक साबित होगा या नहीं?

बजट 2017: अरुण जेटली ने पेश किया बजट, जानिए बजट की मुख्य बातें

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. P
    Pravin Srivastava
    Feb 1, 2017 at 11:41 am
    ऐसा लिख कर अपना ही मज़ाक बना रहे है आप लोग
    Reply
  2. R
    Rajendra Vora
    Feb 2, 2017 at 3:42 pm
    तुम तो एक बहोत ही सत्यवादी आदमी हो जिसका कोई तोड़ नहीं तो आपके चंदे वालो को कॅश नहीं पर चेकए से क्यों नहीं लेते?
    Reply
सबरंग