ताज़ा खबर
 

घर में गंगाजल रखना है तो जरूर बरतें ये सावधानियां, वर्ना हो सकती है अनहोनी

गंगाजल को छूने से पहले हाथों को अच्छी तरह से साफ कर लेना चाहिए।

गंगाजल को घर में कभी भी अंधेरी जगह पर नहीं रखना चाहिए।

गंगाजल को हिंदू धर्म में पवित्र माना गया है। इसका प्रयोग पूजा, हवन और शुभ कार्यों में किया जाता है। शास्त्रों के मुताबिक भगवान शिव की जटाओं से गंगा निकलती है। गंगाजल से नहाने और पूजा करने से पाप कट जाते हैं। गंगाजल का उपयोग औषधियों में भी किया जाता है। घर में गंगाजल के छिड़काव से वास्तु दोष समाप्त हो जाते हैं। माना जाता है कि जिस व्यक्ति को रात में बुरे सपने आते हैं वे सोने से पहले बिस्तर पर गंगाजल का छिड़काव करें, जिससे रात में बुरे सपने नहीं आएंगे। इस पवित्र जल को लेकर कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए। आइए जानते हैं –

गंगाजल को प्लास्टिक की बोतल में नहीं रखना चाहिए। प्लास्टिक की बोतल में गंगाजल रखना अशुभ माना जाता है। इसलिए गंगाजल को किसी धातु से बने बर्तन में रखना चाहिए। घर में हमेशा गंगा जल ईशान कोण में रखना चाहिए। इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है और घर में शांति बनी रहती है। घर में गंगाजल किसी पवित्र स्थान पर रखना चाहिए। साथ ही उस जगह की सफाई होनी चाहिए। जिस कमरे में गंगा जल रखा हो वहां कभी मांस-मदिरा का सेवन नहीं करना चाहिए।

गंगाजल को छूने से पहले हाथों को अच्छी तरह से साफ कर लेना चाहिए। गंगाजल को कभी गंदे और जूठे हाथ नहीं लगना चाहिए। गंगाजल को घर में कभी भी अंधेरी जगह पर नहीं रखना चाहिए। इससे घर में नकारात्मक शक्तियों पैदा होती है। गंगाजल को उस कमरे में रखना चाहिए जहां सूर्य की रोशनी पहुंचती हो।  घर में रोज सुबह गंगाजल का छिड़काव करने से नकारात्मक शक्तियां खत्म हो जाती है और घर में सुख-शांति बनी रहती है।

ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और गूगल प्लस पर जुड़ें

First Published on November 15, 2017 12:03 pm

  1. No Comments.