ताज़ा खबर
 

दिन भर रहना चाहते हैं एनर्जेटिक तो इन चीजों से न करें दिन की शुरुआत

सुबह के समय हमें कुछ भी ऐसा नहीं करना चाहिए जिससे सिर्फ मनोवैज्ञानिक ही नहीं बल्कि हमें शारीरिक सेहत का नुकसान भी उठाना पड़े।
सुबह का समय दिन का सबसे अच्छा वक्त होता है।

सुबह का समय दिन का सबसे अच्छा वक्त होता है। इस समय आप खुद को सबसे तरोताजा महसूस करते हैं। दिन की शुरुआत अगर अच्छी हो जाए तो पूरा दिन हम काफी एनर्जेटिक और प्रोडक्टिव रहते हैं। ऐसे में हमें दिन की शुरुआत के दौरान थोड़ा सतर्क रहना चाहिए। सुबह के समय हमें कुछ भी ऐसा नहीं करना चाहिए जिससे सिर्फ मनोवैज्ञानिक ही नहीं बल्कि हमें शारीरिक सेहत का नुकसान भी उठाना पड़े। आज हम आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताने वाले हैं जो सुबह के समय आपको बिल्कुल नहीं करना चाहिए।

कॉफी पीना – कुछ लोग ऐसे होते हैं जो बिना कॉफी पिए बिस्तर से नहीं उतरते लेकिन यह ठीक नहीं है। दरअसल सुबह के समय जब हम उठते हैं तब हमारा शरीर कोर्टिसोल को पंप करना शुरू कर देता है। इसकी महक नमक की तरह होती है जो आपको उठने में मदद करती है। कॉफी की वजह से इसकी सक्रियता प्रभावित होती है।

सिगरेट पीना – यूं तो दिन में कभी भी सिगरेट पीना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है लेकिन अगर आप सुबह उठते ही सिगरेट पीने के आदी हैं तो अपनी ये आदत आज ही बदल डालें। सुबह के समय ताजी और स्वच्छ हवा में सांस लेना चाहिए न कि सिगरेट के जहरीले धुओं में। एक अध्ययन में कहा गया है कि सुबह के समय सिगरेट पीने वालों में कैंसर का खतरा अन्य स्मोकर्स के मुकाबले काफी ज्यादा होता है।

एक्सरसाइज न करना – दिन के किसी और हिस्से में एक्सरसाइज करने से एक्सरसाइज न ही करना बेहतर है। सुबह का समय एक्सरसाइज का सबसे बेहतर वक्त होता है। कई शोधों में यह दावा किया गया है कि जो लोग सुबह के वक्त नियमित रूप से एक्सरसाइज करते हैं उनका ब्लड प्रेशर दुरुस्त रहता है और उन्हें नींद भी अच्छी आती है।

हैवी कार्बोहाइड्रेट का नाश्ता – सुबह के नाश्ते में हैवी कार्बोहाइड्रेट का सेवन करने से आप लंच से पहले स्लीपी महसूस करेंगे। इसके अलावा इससे आपको बहुत जल्द ही भूख भी लग जाती है। इसलिए सुबह के नाश्ते में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम रखें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.