May 23, 2017

ताज़ा खबर

 

सेहत के लिए सबसे बेहतर कौन है, दूध की चाय, ग्रीन टी या काली चाय

आज हम आपको बता रहे हैं कि आपकी सेहत के लिए ग्रीन टी ज्यादा फायदेमंद होती है या फिर काली चाय।

ग्रीन टी और ब्लैक टी के फायदों की बात करें तो कई मायनों में ब्लैक टी ज्यादा अच्छी होती है तो कई मायनों में ग्रीन टी ज्यादा फायदा करती है।

ग्रीन टी और ब्लैक टी यानि काली चाय के फायदों के बारे में तो आप सब जानते होंगे और आप ये भी जानते होंगे कि यह आपकी कई बीमारियों को दूर करने के साथ वजन घटाने में भी सहायक होती है। लेकिन क्या आप ये जानते हैं कि ग्रीन टी आपके स्वास्थ्य के लिए ज्यादा फायदेमंद होती है या काली चाय या फिर दूध वाली चाय। आप शायद ही इसका जवाब दे पाएं, लेकिन आज हम आपको बता रहे हैं कि आपकी सेहत के लिए ग्रीन टी, ब्लैक टी और दूध वाली चाय में कौनसी चाय बेहतर होती है।

ग्रीन टी और ब्लैक टी के फायदों की बात करें तो कई मायनों में ब्लैक टी ज्यादा अच्छी होती है तो कई मायनों में ग्रीन टी ज्यादा फायदा करती है। डॉ जॉन वेशबर्गर का कहना है कि ब्लैक और ग्रीन टी दोनो केमेलिया सिनेंसिस नाम के पेड़ की पत्तियों से बनाई जाती है। लेकिन ब्लैक और ग्रीन टी में खास अंतर ये है कि ब्लैक टी फेरमेंटेशन से बनती है जबकि ग्रीन टी को इस प्रोसेस नहीं गुजरना पड़ता। बता दें कि फेरमेंटेशन के दौरान चाय से कई नेचुरल फायदेमंद तत्व निकल जाते हैं। एक रिचर्स में सामने आया था कि फेरमेंटेशन से बने खाने से एथियल कार्बोनेट बनने की संभावना होती है और डब्ल्यूएचओ के अनुसार एथियल कार्बोनेट कैंसर का कारण हो सकता है। इसलिए इस तर्क के अनुसार ग्रीन टी आपके शरीर के लिए फायदेमंद होती है।

READ ALSO: चाय पीने के भी हैं कई फायदे, जानिए- कौनसी बीमारियां रहती है दूर

वहीं अगर इसमें मौजूद कैफीन की बात करें तो ब्‍लैक टी में ग्रीन टी के मुकाबले 2 से 3 गुना ज्‍यादा कैफीन होती है। ब्लैक टी में कॉफी के मुकाबले करीब एक तिहाई कैफीन होता है जबकि ग्रीन टी में एक चौथाई कैफीन की मात्रा होती है। बता दें कि ज्यादा कैफीन वजन घटाने में सहायक होता है, इसलिए इस तर्क के अनुसार ब्लैक टी ज्यादा फायदेमंद है और यह आपके शरीर से वजन कम करती है। हालांकि कैफीन एक नशीला पदार्थ होता है। वहीं ग्रीन टी 10 से 40 एमजीएस पॉलीफेनॉल्स सप्लाई करता है, जो कि कई मायनों में आपके लिए एंटीऑक्सिडेंट का काम करती है, जबकि इस तरह की एक्टिविटी कोई और चाय नहीं करती है। इसलिए कई मायनों में ब्लैक टी ज्यादा फायदेमंद है तो कई मायनों में ग्रीन टी आपकी सेहत को फायदा पहुंचाती है।

वहीं अगर दूध वाली चाय की बात करें तो जर्मनी के एक शोध समूह ने अपने अध्ययन में पाया है कि सामान्य काली चाय के कुछ कप के फायदे इसमें दूध मिलाने के साथ ही खत्म हो जाते हैं। दरअसल, दूध में मौजूद कैसीन प्रोटीन, चाय के असर को कम कर देता है। जबकि बिना दूद वाली चाय कई तरह से आपकी सेहत को फायदा पहुंचाती है। हालांकि कई रिचर्स में ये भी सामने आया है कि चाय से कई फायदें भी होते हैं। बताया जाता है कि चाय दांतों के लिए फायदेमंद होती है और चाय सिगरेट के दुष्प्रभाव को कम करने का काम करती है।

हेल्थ से जुड़ी खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 11, 2016 3:00 pm

  1. No Comments.

सबरंग