ताज़ा खबर
 

सेहत के लि‍ए खतरनाक हैं ये पांच संकेत, अक्‍सर लोग कर देते हैं नजरअंदाज

विटामिन-डी आपके शरीर को ठीक रहने में अहम भूमिका निभाता है। विटामिन-डी सिर्फ हड्ड‍ियों के लिए ही जरूरी नहीं है, हड्ड‍ियों की मजबूती के साथ ही इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने के लिए भी विटामिन डी की जरूरत होती है।
अगर आपके शरीर में भी हड्डियों में दर्द होता है या जोड़ों में दर्द रहता है तो हो सकता है कि आपके शरीर में विटामिन डी की कमी हो गई है।

हमारे शरीर को सुचारु रुप से संचालित करने के लिए कई पोषक तत्वों की जरुरत होती है और इन इन्हीं पोषक तत्वों में से एक है विटामिन डी। विटामिन-डी आपके शरीर को ठीक रहने में अहम भूमिका निभाता है। विटामिन-डी सिर्फ हड्ड‍ियों के लिए ही जरूरी नहीं है, हड्ड‍ियों की मजबूती के साथ ही इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने के लिए भी विटामिन डी की जरूरत होती है। विटामिन डी की कमी होने से शरीर में हड्डियों के कई रोग होने की संभावना बढ़ जाती है। लेकिन यह पहचानना मुश्किल हो जाता है कि आपके शरीर में विटामिन-डी की मात्रा है या नहीं। इसलिए आज हम आपको विटामिन-डी की कमी के लक्षण बता रहे हैं, जिससे आप आसानी से पता कर सकते हैं कि आपके शरीर में विटामिन-डी की कमी है या नहीं।

अजीब-सा मूड होना- जब आपके शरीर में विटामिन डी की कमी हो जाती है तो आपके दिमाग पर असर पड़ता है और आपका बर्ताव बदल जाता है और चिड़चिड़े से होने लग जाते हैं।

हड्डियों में दर्द होना- अगर आपके शरीर में भी हड्डियों में दर्द होता है या जोड़ों में दर्द रहता है तो हो सकता है कि आपके शरीर में विटामिन डी की कमी हो गई है। विटामिन डी की कमी से यह दर्द होता रहता है।

थकान महसूस होना- जब शरीर में विटामिन-डी की कमी हो जाती है या शरीर में हल्के दर्द के साथ आपको सुस्ती रहती है तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें। क्योंकि विटामिन डी की कमी से थकान बनी रहती है।

सिर पर पसीना आना- विटामिन डी की कमी होने का सबसे अहम लक्षण है सिर पर पसीना आना। विटामिन डी की कमी होने की स्थिति में सिर से हमेशा पसीना आता रहता है, अगर आपके साथ भी ऐसा होता है तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें।

छोटी-मोटी बीमारियों से शिकार रहना- कई रिसर्च में सामने आया है कि जब शरीर में विटामिन की मात्रा कम होती है तो शरीर कई बीमारियों से घिरा रहता है और थोड़े दिनों बाद ही कोई बीमारी हो जाती है। दरअसल विटामिन डी हड्डियों के साथ आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी ठीक रखती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग