ताज़ा खबर
 

ध्यान दें! आंखों की ये छोटी दिक्कतें भी हो सकती है बड़ी बीमारी का कारण

आंखों में पानी गिरने से लेकर आंख लाल रहना भी आपके लिए किसी बड़ी बीमारी का कारण हो सकता है, इसलिए आज हम आपको उन दिक्कतों के बारे में बता रहे हैं, जो कि आपके लिए दिक्कत खड़ी कर सकती है।
आंखों में दर्द की समस्या ग्लूकोमा और माइग्रेन होने पर भी हो सकती है।

कई बार आंखों में कुछ ऐसी दिक्कते होती रहती है, जिन्हें हम इग्नोर करते रहते हैं, लेकिन यह आपकी आंखों में किसी बड़ी बीमारी का कारण भी बन सकता है। ये दिक्कतें आंखों में पानी गिरने से लेकर आंख लाल रहना भी हो सकता है, इसलिए आज हम आपको उन दिक्कतों के बारे में बता रहे हैं, जो कि आपके लिए दिक्कत खड़ी कर सकती है। आइए जानते हैं उन दिक्कतों के बारे में जिससे कि आप समय पर इलाज करवा सके।

आंखों में दर्द- कई बार आंखों में हल्का दर्द रहता है जिसे हम इग्नोर कर देते हैं, जो कि ठीक नहीं है। दरअसल आंख के किसी भी भाग में किसी तरह की चोट जैसी स्थितियों या सूजन और जलन से जुड़ी समस्याओं जैसे- यूवाइटिस, केरटाइटिस की वजह से आंखों में दर्द की समस्या हो सकती हैं। आंखों में दर्द की समस्या ग्लूकोमा और माइग्रेन होने पर भी हो सकती है।

आंखे लाल रहना- कई लोगों की आंखे हमेशा लाल रहती है और उनसे पूछने पर भी वो कहते हैं, ये हमेशा ही लाल रहती है। लेकिन अगर आपके साथ ऐसा है तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें, क्योंकि यह आपके लिए कोई बड़ी बीमारी का कारण भी बन सकती है। आंखों में लाली की समस्या कन्जंगक्टवाइटिस, केरटाइटिस, ग्लूकोमा, यूवाइटिस या आंखों में किसी तो इसी तरह की स्थिति में हो सकती है।

आंख से बहुत अधिक पानी निकलना- कन्जंगक्टवाइटिस, एलर्जी, कार्निया रोग आदि विभिन्न स्थितियों में आपकी आंखों से बहुत अधिक पानी बहने की समस्या हो सकती है। इनके अलावा भी कारण और के कारण हो सकता है। इसलिए अगर आपकी आंखों से ज्यादा पानी निकल रहा है तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें।

आंखों का फड़कना- आंखों का फड़कना आंखों से जुड़ी बीमारियों का एक संकेत है लेकिन इससे डरने की जरुरत नहीं है। तनाव, नींद की कमी, अत्यधिक मात्रा में कैफीन का सेवन, खराब डायट या कम पानी पीने आदि की वजह आंख फड़कने की समस्या होती है। अगर आंख बहुत अधिक फड़कती है तो आपको बोटुलिनम टॉक्सिन का एक इंजेक्शन लेना पड़ सकता है जो आपकी आंखों की मांसपेशियों को आराम पहुंचाता है।

RBI का नया निर्देश- “5000 रुपये से ज़्यादा के पुराने नोट जमा करने पर KYC खाताधारकों से नहीं होगी पूछताछ

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग