December 08, 2016

ताज़ा खबर

 

क्या आप भी अलार्म स्नूज करके 10 मिनट और सोते हैं? तो यह जरुर पढ़ लें

आइए जानते हैं सुबह के वक्त आखिरी में 10-10 मिनट के टुकड़ों वाली नींद क्यों नहीं लेनी चाहिए और कैसे अलार्म लगाना चाहिए।

एक्सपर्ट्स का कहना है कि अलार्म बजने के बाद तुरंत उठ जाने के बजाय अगर आप थोड़ी देर और लेटना चाहते हैं तो ये ठीक नहीं है।

जब आप रात को घोड़े बेचकर सोते हैं तो आपको सुबह सही टाइम पर उठने की चिंता होती है तो आप अपने फोन या घड़ी में अलार्म लगा लेते हैं, लेकिन सुबह उठने के समय क्या आप भी अलार्म को स्नूज करके 10 मिनट और सोते हैं। कई लोग उठने से काफी देर पहले का अलार्म लगा लेते हैं और उसे हर 10 मिनट में स्नूज करते हैं और लंबे समय तक सोते रहते हैं। आप भले ही एक बार में अलार्म से नहीं उठ पाते हो, लेकिन ये 10 मिनट और सोने वाली आदत आपके लिए दिक्कत खड़ी कर सकती है। आइए जानते हैं सुबह के वक्त आखिरी में 10-10 मिनट के टुकड़ों वाली नींद क्यों नहीं लेनी चाहिए और कैसे अलार्म लगाना चाहिए।

कोलंबियन जर्नलिस्टस का कहना- “हमारे लिए हिलेरी विजेता हैं”

अलार्म बंद करके थोड़ी देर और सोने वाले लोगों को पूरे दिन नींद आती है और थकान रहती है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि अलार्म बजने के बाद तुरंत उठ जाने के बजाय अगर आप थोड़ी देर और लेटना चाहते हैं तो ये ठीक नहीं है। इससे आप ज्यादा थकान महसूस करते हैं। हमें ऐसा लगता है कि अगर हम अलार्म बजने के बाद कुछ देर और सो लेंगे तो बॉडी में दिन भर ज्यादा एनर्जी रहेगी, इसलिए स्नूज बटन दबाने के आदी हो जाते हैं। हालांकि एक अलार्म से फिर से अलार्म बजने के बीच का टाइम (10 मिनट) इतना कम होता है कि आपकी बॉडी को इससे कोई फायदा नहीं होता, बल्कि बेवजह दिन भर थकान जरूर रहती है। ऐसा इसलिए होता है कि अलार्म में स्नूज बटन दबाने के कारण दिमाग और बॉडी क्लॉक के बीच कंफ्यूजन क्रिएट हो जाती है।

वॉल स्ट्रीट जर्नल में छपे एक लेख में साइंटिस्ट डैन एरिली का कहना है कि अपने अलार्म को ठीक उसी टाइम के लिए सेट करना चाहिए, जब आपको उठना हो। अगर आप सुबह सात बजे दिन शुरू करना चाहते हैं, तो आप उसी टाइम का अलार्म लगाएं। लेकिन अगर आप 10 मिनट और सोने वाली ट्रिक अपनाते हैं तो आपकी बॉडी नहीं समझ पाती कि अलार्म बजने और उठने के बीच क्या है। इसलिए उसकी प्रतिक्रिया अजीब हो जाती है। सीधी बात है कि हमारा शरीर सीधा नियम आसानी से समझ पाता है, इसलिए अलार्म बजते ही बेड से उठ जाना चाहिए।

हेल्थ से जुड़ी खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 9, 2016 9:53 am

सबरंग