December 04, 2016

ताज़ा खबर

 

क्या आपको भी है एनर्जी ड्रिंक पीने की लत तो पहले जान लीजिए चंद मिनटों में कैसे बिगाड़ना शुरू करता है ये आपकी सेहत

एनर्जी ड्रिंक में सुगर की मात्रा बहुत ज्यादा होती। इसलिए इसमें बहुत ज्यादा कैलोरी होती है। ज्यादा कैफीन पीने से अवसाद, तनाव, निर्जलीकरण और रक्तचाप तेज हो सकता है।

एनर्जी ड्रिंक का चलन नौजवानों में बढ़ता जा रहा है। (Source: Thinkstock images)

स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा लगातार चेतावनी दिए जाने के बाद भी एनर्जी ड्रिंक की लोकप्रियता बढ़ती ही जा रही है। कुछ लोग तो इसे नई पीढ़ी की कॉफी कहने लगे हैं। ऐसा नहीं है कि एनर्जी ड्रिंक का प्रयोग केवल नौजवान करते हैं लेकिन उनमें इसके प्रति झुकाव अन्य आयु वर्ग की तुलना में अधिक देखा जाता है। कुछ युवाओं को एनर्जी ड्रिंक की लत तक लग जाती है। एक ताजा अध्ययन में दावा किया गया है कि रेड बुल से किशोरों के मस्तिष्क पर कोकीन के नशे जैसा असर होता है। ऐसे में स्वास्थ्य पर पड़ने वाले इसके खतरों के प्रति आगाह रहना जरूरी है। आइए आज हम आपको बताते हैं कि एनर्जी ड्रिंक के एक सामान्य कैन से किस तरह आपकी सेहत पर तुरंत नकारात्मक असर पड़ना शुरू हो जाता है।

एनर्जी ड्रिंक का एक कैन पीने के पहले 10 मिनट- आपके शरीर में कैफीन की अत्यधिक मात्रा पहुंचती है जिससे आपका रक्तचाप बढ़ जाता है और दिल की धड़कन तेज हो जाती है।

15-45 मिनट बाद- अगर आप बहुत तेजी से एनर्जी ड्रिंक का कैन पीते हैं तो करीब 15 मिनट बाद आप पहले से ज्यादा सचेत महसूस करने लगेंगे। अगर धीरे-धीरे पीते हैं तो इसका असर करीब 40 मिनट बाद दिखना शुरू होगा।

30-50 मिनट बाद- कैफीन आपके शरीर में पूरी तरह पच जाती है। आपकी पुतलियां फैल जाती हैं। आपका रक्तचाप बढ़ जाता है और नतीजतन आपका लीवर आपकी रक्तनलिकाओं में में ज्यादा सुगर भेजने लगता है। आपके मस्तिष्क में एडेनोसाइन संवेदी तंत्र बंद हो जाते हैं जिसकी वजह से आपको झपकी आनी बंद हो जाएगी। इंसुलीन की मात्रा बढ़ने से आपका ब्लड सुगर बढ़ जाएगा। ब्लड सुगर बढ़ने पर आपका लीवर जितना भी सुगर पाएगा उसे वसा में बदल देगा।

एक घंटे बाद- आपके शरीर में सुगर की कमी महसूस होने लगेगी साथ ही कैफीन का प्रभाव भी कम होने लगेगा। आपको थकान महसूस होने लगेगी और आपके शरीरा का ऊर्जा स्तर कम होने लगेगा। रेड बुल या उसके जैसे किसी अन्य एनर्जी ड्रिंक के साथ आपने जितना पानी पिया होगा वो इस समय तक पेशाब के रूप में शरीर से बाहर निकल चुका होगा। आपकी शरीर के जलस्तर को बनाए रखने वाला या हड्डियों को मजबूत करने वाला पोषक जल भी शरीर से बाहर निकल जाता है।

5-6 घंटे बाद- आपके शरीर में कैफीन की मात्रा इतनी देर में आधी हो जाती है। गर्भनिरोधक गोलियां लेने वाली महिलाओं के शरीर में 10 घंटे बाद इसका असर आधा होता है।

12 घंटे बाद-  ज्यादातर लोगों की रक्तवाहिकाओं से कैफीन को पूरी तरह बाहर निकलने में इतना समय लग जाता है। हालांकि कैफीन के पूरी तरह बाहर निकलने का समय उम्र से लेकर शारीरिक सक्रियता जैसे कई कारकों पर निर्भर करता है।

12-24 घंटे बाद- एनर्जी ड्रिंक पीने के अगले दिन आप फिर से इसकी तलब महसूस करने लगते हैं। अगर एनर्जी ड्रिंक के लती हैं या अक्सर पीते हैं तो आपको महसूस होगा कि जिस दिन आप इसे न पिएं आप थकान, सिर दर्ज या कब्ज जैसी दिक्कतें महसूस करने लगते हैं।

7-12 दिन बाद- विभिन्न अध्ययनों के अनुसार आपका शरीर 7-12 दिन बाद ही दोबारा एनर्जी ड्रिंक पीने लायक बन पाता है। यानी इतने दिनों के अंतराल पर इसे पीते हैं तो आप काफी हद तक इसके दुष्प्रभाव तक बचे रह सकते हैं।

एनर्जी ड्रिंक से जुड़े कुछ तथ्य-  रेड बुल जैसे एनर्जी ड्रिंक के 250 मिली कैन में 80 मिलीग्राम कैफीन होता है। कुछ कॉफी ऐसी होती हैं जिनमें इससे ज्यादा कैफीन होती है। एनर्जी ड्रिंक में सुगर की मात्रा बहुत ज्यादा होती। इसलिए इसमें बहुत ज्यादा कैलोरी होती है। ज्यादा कैफीन पीने से अवसाद, तनाव, निर्जलीकरण, चक्कर और रक्तचाप तेज हो सकता है।

वीडियोः देखें कौन से कोल्ड ड्रिंक में पाए गए हैं जहरीले तत्व-

वीडियोः फिल्म स्टार राखी सावंत ने नोटबंदी पर किया पीएम मोदी का समर्थन-

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 23, 2016 5:19 pm

सबरंग