ताज़ा खबर
 

बुरे नहीं अच्छे होते हैं जर्म्स, बच्चों के इम्यून सिस्टम को पहुंचाते हैं फायदा

यूनीवर्सिटी ऑफ शिकागो के प्रोफेसर गिलबर्ट ने अपने एक शोध में इस बात का दावा किया है कि जर्म्स यानी कि रोगाणु आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाते हैं।
जर्म्स आपके बच्चों के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद भी होते हैं

हर माता-पिता अपने बच्चों को जर्म्स से बचाने को लेकर काफी चिंतित रहते हैं। इसीलिए कभी-कभी वो अपने बच्चों के बाहर जाने और खेलने में बंदिशें लगाते रहते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि जर्म्स आपके बच्चों के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं। यूनीवर्सिटी ऑफ शिकागो के प्रोफेसर गिलबर्ट ने अपने एक शोध में इस बात का दावा किया है कि जर्म्स यानी कि रोगाणु आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाते हैं। उनका कहना है कि ज्यादातर पैरेंट्स ऐसा सोचते हैं कि जर्म्स बुरे होते हैं जबकि यह सच नहीं है। ज्यादातर जर्म्स आपके इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाकर आपको मजबूती प्रदान करते हैं।

प्रोफेसर गिलबर्ट के अनुसार बच्चों को जानवरों से अक्सर जर्म्स की वजह से दूर रहने को कहा जाता है जो बिल्कुल निराधार है। उन्होंने कहा कि अगर कोई कुत्ता किसी बच्चे के चेहरे को चाटता है तो यह उस बच्चे के इम्यून सिस्टम के लिए काफी फायदेमंद है। उन्होंने यह भी कहा कि हैंड सेनिटाइजर बच्चों के स्वास्थ्य के लिए साबुन के पानी से भी ज्यादा हानिकारक है। गिलबर्ट ने बताया कि पहले के बच्चों में पाचन शक्ति इसीलिए मजबूत हुआ करती थी क्योंकि वो जर्म्स आदि की चिंता नहीं करते थे। उन्होंने कहा कि पहले के लोग सूक्ष्म जीवाणुओं के काफी संपर्क में रहा करते थे इसलिए उनका इम्यून सिस्टम काफी मजबूत हुआ करता था।

अपनी थेसिस के सपोर्ट में प्रोफेसर गिलबर्ट ने कुछ बच्चों पर शोध किया है जिसके मुताबिक उन बच्चों में अस्थमा के मामले कम देखने को मिले जो रोगाणुओं की अधिकता वाली जगहों पर रहा करते थे। तीन लाख बच्चों पर किए गए एक अन्य स्वीडिश अध्ययन में जमीन पर गिरी एक काठ की पुतली को वापस बच्चों के मुंह में रखा गया। इस अध्ययन के बाद यह पाया गया कि उन काठ की पुतलियों को बिना धोए जिन बच्चों के मुंह में रखा गया उनमें एलर्जी, अस्थमा और एक्ज़िमा का प्रभाव कम था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.