December 04, 2016

ताज़ा खबर

 

लाल मिर्च खाने से होता है ये बड़ा फायदा, एक दिन में खानी चाहिए इतनी मिर्च

कुछ शोधों से यह बात पता चली है कि जिस मिर्च को खाने से आपके जीभ पर जलन होने लगती है वह आपके हार्ट की मांसपेशियों को मजबूत और स्वस्थ बनाए रखती है।

बता दें कि सामान्य भोजन के साथ रोजाना सिर्फ 30 ग्राम तक मिर्च का ही सेवन करें।

आपने हमेशा ये ही सुना होगा कि तेज मिर्च या मसालेदार खाना खाने से आपको पेट संबंधी बीमारियां और कई दिक्कतें हो सकती है। लेकिन आप यह जानकर हैरान रह जाएंगे कि लाल मिर्च भी आपके शरीर के लिए फायदेमंद होती है। इससे आप बड़ी बीमारियों से भी अपने आप को बचा सकते हैं। कई शोध में पता चला है कि लाल मिर्च आपके हर्ट को फायदा पहुंचाती है। रिसर्च में सामने आया है कि कुछ शोधों से यह बात पता चली है कि जिस मिर्च को खाने से आपके जीभ पर जलन होने लगती है वह आपके हार्ट की मांसपेशियों को मजबूत और स्वस्थ बनाए रखती है।

यूरोपियन जर्नल ऑफ पब्लिक हेल्थ में छपे एक रिसर्च के अनुसार, मिर्च खाने से आपके मेटाबोलिज्म या पाचन क्रिया पर कोई हानिकारक प्रभाव नहीं पड़ता है। अभी तक यह माना जाता था कि ज्यादा मिर्च खा लेने से आपको दिल में जलन या एसिडिटी जैसी समस्याएं हो जाती है लेकिन ऐसा नहीं है क्योंकि इस शोध में कुछ लोगों को लगातार 4 हफ्तों तक मिर्च से भरपूर चीजें खिलाई गईं फिर उनका निरीक्षण किया गया जिससे पता चला कि उनके रेस्टिंग हार्ट रेट और ब्लड प्रेशर में कमी आई है और उनके मेटाबोलिज्म पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा है।

READ ALSO: दूध में चीनी की जगह ये मिलाकर पीने से ग्लो करती है स्किन और होते हैं कई फायदे

हालांकि इसका मतलब यह नहीं है कि आप हर चीज में लाल मिर्च डालकर खाना शुरू कर दें या आवश्यकता से अधिक मिर्च खाने लगे। बता दें कि सामान्य भोजन के साथ रोजाना सिर्फ 30 ग्राम तक मिर्च का ही सेवन करें। इसे खाने का फायदा आपको तुरंत नहीं पता चलेगा बल्कि इसके लिए आपको टाइम लगेगा। कुछ हफ्तों के बाद आप पाएंगे कि आपके रेस्टिंग हार्ट रेट में कमी आई है और आपका ह्रदय पहले से बेहतर तरीके से काम करने लगा है। शोध के अनुसार मिर्च का असर पुरुष और महिलाओं दोनों पर समान रूप से ही होता है। इतना ही नहीं लाल और हरी दोनों मिर्च आपके शरीर को फायदा पहुंचाती है। लेकिन इस बात का ध्यान रहे कि इसका सेवन एक सीमा में ही करें अन्यथा आपको नुकसान भी उठाना पड़ा सकता है।

हेल्थ से जुड़ी खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 14, 2016 1:26 pm

सबरंग