December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

क्रिकेट देखने में आता है मजा, लेकिन खेलने से सेहत को होते हैं ये फायदे

क्रिकेट एक ऐसा खेल है, जिससे आपकी सेहत से जुड़ी कई दिक्कते दूर हो सकती है। इससे आपके शरीर का हर पार्ट काम करता है और आपको शारीरिक फायदों के साथ मानसिक फायदा भी मिलता है।

क्रिकेट एक ऐसा खेल है जिसमें आपके शरीर का हर हिस्सा काम करता है और जब आप बॉलिंग, कैच, थ्रो करते हैं तो आपकी मांसपेशियों की अच्छी एक्सरसाइज हो जाती है।

क्रिकेट देखने में तो आपको बहुत मजा आता होगा और आप फुल एनर्जी, जोश के साथ यह खेल देखते होंगे, लेकिन अगर आप यह खेल खेलना भी शुरू कर दें तो यह आपके लिए काफी फायदेमंद हो सकता है। क्रिकेट एक ऐसा खेल है, जिससे आपकी सेहत से जुड़ी कई दिक्कते दूर हो सकती है। इससे आपके शरीर का हर पार्ट काम करता है और आपको शारीरिक फायदों के साथ मानसिक फायदा भी मिलता है। फिटनेस एक्सपर्ट और क्रिकेट कोच दिनेश पी कांबले के अनुसार, ये एक ऐसा खेल है, जिसे खेलते रहने पर आपको अपने स्वास्थ्य को लेकर कोई चिंता करने की जरूरत नहीं होती है। आइए जानते हैं क्रिकेट खेलने के क्या-क्या फायदा होते हैं।

कैलोरी करे बर्न- वैसे तो हर खेल से कैलोरी बर्न होती है, लेकिन क्रिकेट एक तरह की कार्डियो एक्टिविटी है जिससे बहुत जल्दी और ज्यादा कैलोरी बर्न होती है। वहीं सबसे ज्यादा कैलोरी बॉलिंग करने से बर्न होती है, अगर आप एक घंटे तक क्रिकेट खेलते हैं तो आप 350 कैलोरी बर्न कर सकते हैं।

मांसपेशियां मजबूत होती है- क्रिकेट एक ऐसा खेल है जिसमें आपके शरीर का हर हिस्सा काम करता है और जब आप बॉलिंग, कैच, थ्रो करते हैं तो आपकी मांसपेशियों की अच्छी एक्सरसाइज हो जाती है और आपके पैर और शरीर के ऊपरी हिस्से मजबूत बनते हैं।

टीम बिल्डिंग- क्रिकेट एक ऐसा खेल है जिसमें सबको एकजुट होकर खेलना पड़ता है। इससे टीम बिल्डिंग स्किल्स में सुधार होता है। आप जीत का आनंद दूसरों के साथ साझा करते हैं। इसके अलावा आपको अन्य लोगों से दोस्ती करने और उन्हें समझने का मौका मिलता है।

READ ALSO: 10 मिनट रोने के ये फायदे जानते हैं आप?

संतुलन बनता है- क्रिकेट से सिर्फ शारीरिक एक्सरसाइज ही नहीं होती बल्कि आपका बैलेंस भी ठीक हो जाती है। क्योंकि आपको फील्डिंग करते वक्त बहुत मेहनत करनी पड़ती है और संतुलन बनाकर फील्डिंग करनी पड़ती है। इससे आप कम समय में ही ठीक बैलेंस बनाना सीख जाते हैं। मैदान पर आसानी से लेट जाना, डाई मारना और संतुलन बनाए रखने से आपकी फ्लेक्सीबिलिटी में भी सुधार होता है।

जल्दी फैसला लेने में मिलती है मदद- जब आप क्रिकेट खेलते हैं तो आपको बहुत जल्दी फैसले लेने पड़ते हैं। चाहे आप बैटिंग कर रहे हो या फील्डिंग और बॉलिंग, हर समय आपको क्विक डिसिजन लेना होता है, जिससे आपका दिमाग भी तेज चलता है।

हेल्थ से जुड़ी खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 31, 2016 11:45 am

सबरंग