December 06, 2016

ताज़ा खबर

 

हर रोज एक इलाइची खाएंगे तो नहीं होगी ये बीमारी

छोटी से इलाइची आपके शरीर की कई बड़ी बीमारियों को भी दूर कर सकती है। इलाइची में कई तत्व होते हैं जिनमे खुशबू होने के साथ साथ कई गुण भी होते हैं।

एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर इलाइची ब्लड प्रेशर कम करने में सहायक है। इसका हाइपरटेंशन के पहले स्टेज पर ज्यादा प्रभाव पड़ता है।

आप कभी कभी चाय या दूध में इलाइची डालकर पीते होंगे, आपकी चाय के स्वाद को बढ़ाने वाली ये छोटी सी इलाइची आपके सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होती है। यह छोटी से इलाइची आपके शरीर की कई बड़ी बीमारियों को भी दूर कर सकती है। इलाइची में कई तत्व होते हैं जिनमे खुशबू होने के साथ साथ कई गुण भी होते हैं। आइए जानते हैं इलाइची खाने के वो फायदे जिन्हें जानने के बाद आप भी इलाइची खाना शुरू कर देंगे।

हाइपरटेंशन के मरीजों के लिए लाभदायक- एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर इलाइची ब्लड प्रेशर कम करने में सहायक है। इसका हाइपरटेंशन के पहले स्टेज पर ज्यादा प्रभाव पड़ता है। इंडियन जर्नल ऑफ बायोकेमिस्ट्री एंड बायोफिजिक्स में छपी एक रिसर्च के अनुसार, इलाइची सिस्टोलिक और डायस्टोलिक को कम करने में सहायक है, इनसे ब्लड प्रेशर लेवल प्रभावित होता है।

हिचकी बंद करे- हिचकी एक ऐसी चीज़ है जिसे लोग गंभीरता से नहीं लेते, लेकिन अगर ये लगातार आते रहे तो आप काफी परेशान हो सकते हैं। इलाइची में कुछ ऐसे तत्व होते हैं जो हमारे फेफड़ों से गैस निकालते हैं और हिचकी में राहत पहुंचाते हैं। ऐसा होने पर 4-5 हरी इलाइची लें, उन्हें छीलकर बीज निकाल लें और उन्हें अच्छी तरह पीस लें। अब इस पाउडर को एक कप उबलते पानी में डालें। इसमें 4-5 पुदीने के पत्ते भी मिला लें। इस पानी को 5 मिनट तक उबलने दें। अब इस इलाइची-पुदीने के काढ़े को गर्मागर्म पी लें।

पाचन तंत्र ठीक रहता है- खाना खाने के बाद इलाइची खाने से ना सिर्फ मुंह की बदबू से छुटकारा मिलता है, जबकि आपका पेट भी ठीक रहता है। इलाइची, पाचन तंत्र को उत्तेजित करती है, जिससे अम्ल बढ़ने के कारण पेट फूलने जैसी समस्याओं में लाभ होता है और इलाइची पाचन तंत्र की समस्त गतिविाधि‍यों को मजबूत करती है, जिससे भूख भी बढ़ती है।

READ ALSO: हर रोज 5-7 जामुन खाने के हैं कई फायदे, शुगर समेत कई बीमारियां रहेंगी दूर

सीने में जलन के लिए फायदेमंद- सीने में जलन होने और गैस से संबंधित समस्याएं होने पर भी इलायची बेहद लाभदायक होती है।
इलाइची में पाए जाने वाले अनुत्तेजक तत्व, शरीर के विभिन्न अंगों एवं जोड़ों में अकड़न की समस्या को भी दूर करते हैं। इसलिए इलाइची का नियमित सेवन करें।

इलाइची आपके फेफड़ों में रक्त परिसंचरण को बढ़ाकर सांस संबंधित समस्याओं जैसे अस्थमा, खांसी और ज़ुकाम आदि से राहत दिलाती है। आयुर्वेद में इलाइची को एक गर्म मसाला माना गया है जो शरीर को अंदर से गर्म करता है जिससे कफ के निष्कासन और छाती में जमाव से राहत दिलाता है।

हेल्थ से जुड़ी खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

देखें- जनसत्ता स्पीड न्यूज

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 25, 2016 10:07 am

सबरंग