ताज़ा खबर
 

आचार्य बालकृष्ण के हेल्थ टिप्स: अगर आपको भी है इनमे से कोई बीमारी, तो ऐसे करें इलाज

जब भी आपको या आपके परिचित को कोई बीमारी होती है तो आप उसे तुरंत डॉक्टर के पास लेकर जाते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कई बीमारियों का इलाज तो आपके घर में ही होता है, यानि आप कुछ बीमारियों का इलाज घर पर ही कर सकते हैं।
कब्ज या अपच होने पर एक गिलास छाछ में आधा चम्मच भुना हुआ जीरा और चुटकी भर काला नमक मिलाकर पी लें, ऐसा करते ही आपको कुछ ही देर में आराम महसूस होने लगेगा।

जब भी आपको या आपके परिचित को कोई बीमारी होती है तो आप उसे तुरंत डॉक्टर के पास लेकर जाते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कई बीमारियों का इलाज तो आपके घर में ही होता है, यानि आप कुछ बीमारियों का इलाज घर पर ही कर सकते हैं। आयुर्वेद से अधिकतर छोटी-मोटी बीमारियों का इलाज घर के सामान से ही संभव होता है, इसलिए आज हम आपको आचार्य बालकृष्ण की ओर से बताए गए नुस्खों के बारे में बता रहे हैं, जिससे आप आसानी से कई बीमारियों का इलाज कर सकते हैं।

पेट में दर्द होने पर- जीरा पेट के कई रोगों को दूर करने के लिए कारगर दवाई है। कब्ज या अपच होने पर एक गिलास छाछ में आधा चम्मच भुना हुआ जीरा और चुटकी भर काला नमक मिलाकर पी लें, ऐसा करते ही आपको कुछ ही देर में आराम महसूस होने लगेगा।

चेहरे पर झुर्रियां होने पर- अगर आप भी आपके चेहरे की झुर्रियों से परेशान हैं तो दो चम्मच नींबू के रस में दो चम्मच शहद मिलाकर चेहरे पर लगाएं। उसके बाद आधे घंटे बाद मुंह को धो लें। ऐसा नियमित रुप से करने से झुर्रिया कम होने लगती है और धीरे-धीरे आपके चेहरे का रंग निखरने लगता है।

अस्थमा का ऐसे करें इलाज- अस्थमा होने पर आधा चम्मच प्याज का रस लें और आधा चम्मच अदरक का रस लें और उसके बाद तुलसी के 5 पत्तों का रस व शहद एक चम्मच की मात्रा में लेकर सुबह शाम सेवन करने से अस्थमा रोग नष्ट होने लगता है। वहीं अगर कोई डायबिटीज से पीड़ित है तो भी वो भी इसका का इस्तेमाल कर सकता है।

बदन दर्द होने पर- जब कभी आपको बदन दर्द हो रहा है तो 100 मिली सरसों का तेल लेकर उसमें थोड़ी सी अजवाइन और पांच लहसुन की कली पीसकर डाल दें और तेल को पका लें। ऐसा करने के बाद उसे ठंडा करके छान लें। उसके बाद इस तेल से मालिश करें और आपको कुछ ही देर में बदन दर्द से आराम मिलने लगेगा।

चक्कर आना- अधिक चक्कर आने पर दो चम्मच सूखा धनिया लेकर एक गिलास पानी में दो घंटे के लिए भिगो दें। इस पानी को आधा होने तक उबालें और छानकर थोड़ी सी मिश्री मिला दें। इसे ठंडा होने तक दिन में एक बार सेवन करें। इस प्रयोग को करने से चक्कर आने की बीमारी से लाभ होता है।

एक ऐसा एंडॉयड ऐप जो बताएगा, आखिरी बार किसने किया था आपके फोन का इस्तेमाल

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.