ताज़ा खबर
 

Video: हमारे दिमाग में होती है यह अनोखी पावर, जो करती है हमारे खाने पर कंट्रोल

हमारे शरीर का सबसे भूखा अंग हमारा दिमाग ही होता है। हम जो भी खाते हैं उसका 20 फीसदी हिस्सा हमारे दिमाग में खर्च होता है।
हमें कब क्या खाने का मन कर जाए यह दिमाग ही कंट्रोल करता है।

हमारा हर फैसला हमारे दिमाग से ही होता है, यहां तक की हमें क्या खाना है यह भी हमारा दिमाग ही बताता है। हमें कब क्या खाने का मन कर जाए यह दिमाग ही कंट्रोल करता है। दरअसल हमारे दिमाग में अखरोट के बराबर का एक उतकों का गोला होता है, जो हमारी इच्छाओं का केंद्र होता है। हमें क्या पसंद आता है क्या नहीं, यह फैसला दिमाग का यही हिस्सा करता है। इसकी सबसे बड़ी चाहत खाने को लेकर होती है।

डिस्कवरी चैनल ने हमारे दिमाग के इस हिस्से को लेकर एक डॉक्यूमेंट्री बनाई थी। इसके मुताबिक हमारे शरीर का सबसे भूखा अंग हमारा दिमाग ही होता है। हम जो भी खाते हैं उसका 20 फीसदी हिस्सा हमारे दिमाग में खर्च होता है। दिमाग में स्थित इच्छाओं का केंद्र पूरे शरीर की जरूरतों का ध्यान रखता है। यही बताता है कि कब हमें प्रोटीन और विटामिन जैसे जरूरी तत्वों की आवश्यकता है। शरीर में जैसी ही किसी चीज की कमी महसूस होती है तब हमारा दिमाग ही उसकी पूर्ती कराता है।

हम इसलिए खाते हैं मिर्च:

मिर्च तीखी लगती है, मगर फिर भी हम उसे खाते हैं, क्योंकि ऐसा करने के लिए हमारा दिमाग हमें उकसाता है। दरअसल एक लाल मिर्च में एक संतरे के मुकाबले 4 गुना ज्यादा विटामिन सी होता है। हमें वह रसायन मिल जाए इसलिए हमारा दिमाग हमसे ऐसा कराता है। मिर्च खाने पर दिमाग में दर्द के संकेतों की बौछार होने लगती है, लेकिन तभी दिमाग एंडोर्फिन नामक तत्व का रिसाव होता है, जो कुदरती पेन किलर की तरह काम करता है। और इस तरह तीथेपन के बावजूद मिर्च खाने में मजा आने लगता है। वीडियो के जरिए समझें पूरी प्रक्रिया-

Read Also: घी खाने से बढ़ता नहीं घटता है वजन, जानिए इससे होने वाले और फायदे

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.