ताज़ा खबर
 

कुछ रंग प्यार के ऐसे भी 4 नवंबर फुल एपिसोड: रनबीर ने नेहा के खिलाफ दर्ज कराया मेंटल हरासमेंट का केस

Kuch Rang Pyar ke Aise Bhi Full Episode: रनबीर, नेहा के खिलाप उसके घर पर मेंटल हरासमेंट का नोटिस भेजता है। सभी घरवाले ये देखकर परेशान हो जाते हैं। देव भी गुस्से में आकर रनबीर को नौकरी से निकलवा देता है। सोना के पूछने पर वो कहता है कि जो उसकी फैमिली को गलत बोलेगा वो उसे नहीं छोड़ेगा।
Author नई दिल्ली | November 5, 2016 08:51 am
ईश्वरी, नेहा को समझाते हुए

‘सोनी टीवी’ पर प्रसारित होने वाले शो ‘कुछ रंग प्यार के ऐसे भी’ में सोना के पैर में जले हुए पटाखे लग जाते हैं। देव अपनी मां के साथ मंदिर जा रहा होता है। लेकिन सोनाक्षी को देखकर वो रुक जाता है और उसकी केयर करता है।  ईश्वरी मंदिर जाना कैंसल कर देती है। मामाजी कहते हैं कि वो उनके साथ मंदिर चलेंगे तो ईश्वरी कहती है कि उसे अब जाने की जरूरत नहीं है। देव को सोनाक्षी के साथ रहना अभी ज्यादा जरूरी है। ईश्वरी गाड़ी में बैठकर अकेली ही मंदिर चली जाती है। देव नीचे आकर उन्हें मंदिर चलने के लिए ढ़ूढता है। उसे बाद में पता चलता है कि वो चली गई हैं। वो भी जाने को होता है लेकिन मामाजी उसे कहते हैं कि उसे अब जाने से कोई फायदा नहीं होगा वो अब वापस आने ही वाली होंगी। वो कहते हैं कि उसे सोनाक्षी के पास ही रहना चाहिए रात काफी हो गई है। एलिना और विकी चैट पर बातें करते हैं। विकी उसे कहता है कि उसे एक्सेप्ट कर लेना चाहिए कि वो उसे मिस कर रही थी। ईश्वरी वापस आती है तो देव को जगा देखकर वो उससे कहती हैं कि वो मंदिर के लिए देर हो जाती इसलिए उसका इंतजार नहीं किया। वो सोनाक्षी की तबीयत के बारे में पूछती हैं।

krpkab-4

सुबह के समय सोनाक्षी और देव साथ में नाश्ता करते हैं। सोनाक्षी कहती है कि उसने ये सब कुछ सपने में देखा था। देव के नीचे आने पर ईश्वरी, देव को नाश्ता करने को कहती है लेकिन देव कहता है कि वो सोनाक्षी के साथ कमरे में नाश्ता कर चुका है। देव को तभी एक कुरियर मिलता है। उसमें लिखा रहता है कि रनबीर ने नेहा पर मानसिक उत्पीड़न का केस फाइल किया है। ईश्वरी ये सुन कर काफी परेशान हो जाती है और उसे इस पर यकीन नहीं होता है। नेहा भी ये सब देख कर अपने कमरे में चली जाती है।

विकी फोन पर एलिना को कहता है कि वो हॉस्पिटल में है और चोट लगने की वजह से उसे सेप्टिक हो गया है और उसका ऑपरेशन होने वाला है। एलिना उसके पास आना चाहती है लेकिन वो फिर कहता है कि वो झूठ कह रहा था। वो मन ही मन खुश होता है कि आखिर में वो फंस ही गई। ईश्वरी, सोनाक्षी से कहती हैं कि रनबीर के घरवाले ऐसा कैसे कर सकते हैं। सोनाक्षी कहती है कि लॉयर और कोर्ट से ज्यादा घरवाले नेहा को जानते हैं तो उन्हें एक बार दोनों परिवारों से बात करनी चाहिए। ईश्वरी कहती है कि उसे थोड़ी देर अकेले रहना है। रनबीर की भाभी, देव के घर पर आती है। वो ईश्वरी से कहती है कि उन्होंने तो उनलोगों को अपने फैमिली से दूर ही कर दिया है। ईश्वरी के पूछने पर वो कहती है कि देव ने ये सब किया है। वो कहती हैं कि देव ने रनबीर को नौकरी से निकलवा दिया है। वो कहती हैं कि रनबीर के सिर पर पूरे घर की जिम्मेदारी है। वो कहती हैं कि देव और उसके घरवाले अब उसकी नजरों से गिर चुके हैं।

कमरे में देव, सोना से कहता है कि उसने जो किया अच्छा किया। वो कहता है कि अगर उसकी फैमिली पर कोई उंगली उठाएगा तो उससे बुरा कोई नहीं होगा।

 

Read Also:

कुछ रंग प्यार के ऐसे भी 3 नवंबर फुल एपिसोड: ऐलीना से प्यार का इजहार करवाने के चक्कर में विकी ने जला लिया हाथ

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग