April 30, 2017

ताज़ा खबर

 

बाल काटने के 20000 रुपए चार्ज करता है ये शख्स, सोनू निगम को किया था सिर सफाचट

मशहूर सिंगर सोनू निगम ने जब अजान के खिलाफ आवाज उठाई तो हजारों लोग उनके खिलाफ खड़े हो गए। हालांकि उनका समर्थन करने वाले लोगों की तादात भी कम नहीं थी।

Author नई दिल्ली | April 21, 2017 16:09 pm
आप सोनू को देखेंगे तो समझ आएगा कि वो पूरी तरह से गंजे नहीं हुए और उन्होंने बज़ कट करवाया है, जिसमें आपके सिर पर थोड़े से बाल रहते हैं।

मशहूर सिंगर सोनू निगम ने लाउडस्पीकर से अजान देने पर सवाल उठाए थे, इसके बाद काफी विवाद खड़ा हो गया। कुछ लोग उनके खिलाफ खड़े हो गए तो वहीं कुछ लोगों ने उनका समर्थन भी किया। एक मौलवी ने सोनू निगम के खिलाफ ‘फतवा’ देते हुए कहा था कि जो भी शख्स इनका सिर गंजा करेगा और जूते की माला पहनाएगा उन्हें वे 10 लाख रुपए देंगे। यह मौलवी पश्चिम बंगाल के सैयद शाह आतिफ़ अली अल क़ादरी थे। बाद में सोनू निगम ने प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित करके अपनी सफाई दी थी और इसके बाद अपना सिर खुद ही मुंडवा लिया। सोनू निगम ने अपना सिर एक मुस्लिम नाई से मुंडवाया था। हम आपको बता दें, इस नाई की बाल काटने की फीस 20 हजार रुपए है।

इसके अलावा हम आपको उस नाई से जुड़ी तमाम जानकारियां शेयर करने जा रहे हैं। सोनू निगम के सिर से बालों को सफाचट्ट करने वाले नाई का नाम आलिम हाकिम है। इससे पहले कि आप हाकिम को कोई मामूली नाई समझने की भूल करें, हम आपको बता दें कि आलिम बॉलीवुड के सिलेब्रिटी हेयर स्टाइलिस्ट हैं जिनके क्लाइंट लिस्ट में अमिताभ बच्चन, रितिक रोशन, रणबीर कपूर, वरुण धवन, दिलीप कुमार और विनोद खन्ना जैसे सितारे हैं। यदि आलिम हाकिम की रेट लिस्ट की बात करें तो वह एक हेयर कट देने का 20 हजार रुपए तक चार्ज करते हैं। आलिम की प्रोफाइल में दावा किया गया है कि उनके पिता हाकिम कैरानवी भारत के पहले सिलेब्रिटी हेयर ड्रेसर थे। आलिम की वेबसाइट पर उपलब्ध कराई गई जानकारी के मुताबिक उन्होंने महज 16 साल की उम्र में हेयर स्टाइलिंग शुरू कर दी थी। इनके सैलून के मुंबई के अलावा हैदराबाद, बेंगलूरु, अहमदाबाद और दुबई में भी हैं।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में सफाई देते हुए सोनू निगम ने कहा था कि मेरा सवाल ना केवल अजान देने पर था, बल्कि हर धार्मिक कार्यों के लिए लाउडस्पीकर इस्तेमाल करने पर था। मैंने किसी एक विशेष धर्म के लिए यह बात नहीं कही थी। बता दें, सोमवार को सोनू निगम ने ट्वीट किया था, ‘मुसलमान नहीं होने के बावजूद आखिर वह सुबह-सुबह अजान से क्यों उठें? यह गुंडागर्दी कब तक बंद होगी?’ साथ ही उन्होंने कहा था कि मंदिर और गुरुद्वारों समेत धार्मिक स्थानों में लाउडस्पीकर का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on April 21, 2017 4:09 pm

  1. No Comments.

सबरंग