ताज़ा खबर
 

आदित्य ठाकरे ने किया नवाजुद्दीन को फोन, कहा- शिव सेना नहीं करती उन्हें रामलीला से हटाने का समर्थन

शिवसेना ने अपने कार्यकर्ताओं द्वारा कथित तौर पर बॉलीवुड अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दिकी से उत्तर प्रदेश स्थित उनके गृहनगर में रामलीला से हटने के लिए कहने से उत्पन्न विवाद से स्वयं को अलग कर लिया है।
Author मुंबई | October 11, 2016 12:00 pm

शिवसेना ने अपने कार्यकर्ताओं द्वारा कथित तौर पर बॉलीवुड अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दिकी से उत्तर प्रदेश स्थित उनके गृहनगर में रामलीला से हटने के लिए कहने से उत्पन्न विवाद से स्वयं को अलग कर लिया है। युवा शिवसेना प्रमुख आदित्य ठाकरे ने कहा, ‘‘मैंने नवाजुद्दीन सिद्दिकी जी से बात की और उन्हें बताया कि उनकी पार्टी उस कारण का अनुमोदन नहीं करती जिसके कारण उन्हें उत्तर प्रदेश में रामलीला करने से रोका गया।’ उन्होंने कहा, ‘‘कथित व्यक्ति, कोई पदाधिकारी है या नहीं, ने पार्टी की नीति नहीं उठायी है और पार्टी ऐसे कदम का समर्थन नहीं करेगी।’ सिद्दिकी अपने गृहनगर बुढाना में थे जहां वह रामलीला समिति के सम्पर्क में आये और उन्होंने रामलीला में किरदार निभाने की इच्छा जतायी। यद्यपि उन्हें शिवसेना से सम्बद्ध बताने वाले कुछ लोगों ने उन्हें रामलीला में हिस्सा लेने से रोक दिया। उन्होंने कथित तौर पर कहा कि वह एक मुस्लिम हैं और उनके खिलाफ एक आपराधिक मामला है।

नवाजुद्दीन ने रामलीला में मारीच के एक राक्षस की भूमिका निभाई, जिसका सीता के अपहरण में अहम योगदान था। स्वर्ण मृग बने मारीज को सीता पकड़ने का आग्रह राम से करती हैं। जब वो उसे पकड़ने के लिए जाते हैं तो वो उन्हें घने जंगल में ले जाता है। जिसकी वजह से मौका पाकर रावण सीता का अपहरण करके लंका ले जाने में सफल हो जाता है।

गौरलतब है कि बुढाना शहर में होने वाली थी में नवाजुद्दीन की भूमिका को लेकर पहले विवाद गरमाया था। दरअसल, हिंदू कार्यकर्ताओं के विरोध की वजह से कार्यक्रम को रद्द कर दिया गया था। क्योंकि कार्यकर्ताओं को नवाजुद्दीन के इस रामलीला में काम करने को लेकर आपत्ति थी। जब उन्होंने इस संबंध में आयोजकों से बात करके अपसी अंसतुष्टि के बारे में बताया तो यह कार्यक्रम रद्द कर दिया गया। बता दें कि मशहूर बॉलीवुड स्टार सलमान खान के पाक कलाकारों को भारत में काम करने का समर्थन करने के बाद अब मशहूर एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने भी इस बात का समर्थन किया है। नवाजुद्दीन ने कहा कि सरकारें एक कलाकार को किसी भी देश में काम करने के लिए अनुमति देती हैं। उनके पास इस तरह की स्थितियों से निपटने के लिए विशेष नीतियां होती हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग