December 10, 2016

ताज़ा खबर

 

ऋषि कपूर बोले- ठुकरा दी थी पाकिस्‍तानी मूवी क्‍योंकि आतंकी देश का हिस्‍सा नहीं बनना चाहता

ऋषि कपूर ने कहा पाकिस्तानी कलाकार भारत सरकार द्वारा जारी वर्क परमिट के साथ आते हैं।

बॉलीवुड अभिनेता ऋषि कपूर।

बॉलीवुड अभिनेता ऋषि कपूर ने करण जौहर की मूवी ‘ऐ दिल है मुश्किल’ के चल रहे विवाद के बीच कहा है कि उन्हें एक पाकिस्तानी मूवी ऑफर हुई थी, लेकिन उन्होंने वह मूवी इसलिए नहीं की क्योंकि उन्हें लगता है कि उनका ऐसा करना लोगों को पसंद नहीं आता। कपूर ने यह बात अंग्रेजी अखबार हिंदुस्तान टाइम्स को दिए इंटरव्यू में कही है। जब कपूर से पाकिस्तानी कलाकारों के भारत में बैन के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘उन्हें(पाकिस्तानी कलाकार) भारत सरकार द्वारा वर्क परमिट जारी किया जाता है। मैं समझ सकता हूं कि उन्होंने उरी हमले की निंदा करने से इनकार कर दिया, जिसकी वजह से मुझे भी थोड़ी पीड़ा हुई थी। मुझे उम्मीद है कि यह जल्द से जल्द सुलझ जाएगी। मैं समझ सकता हूं कि अगर सरकार हमें कुछ फोलो करने के लिए कहे तो ठीक है, लेकिन जो फिल्म पहले ही बन चुकी है, हम उस पर बैन नहीं लगा सकते। क्योंकि इसमें बहुत पैसा लगा होता है। मैंने पहले भी बताया था कि मुझे पाकिस्तानी मूवी ऑफर हुई थी, लेकिन मैंने वह मूवी नहीं की। मेरे देश को ऐसा करना पसंद नहीं होता। मैं एक भारतीय होने पर गर्व करता हूं। अगर पाकिस्तान एक आतंकी देश है तो मैं उस देश का हिस्सा नहीं बनना चाहता।’

वीडियो में देखें- करण जौहर ने पाकिस्तानी कलाकारों के साथ काम करने पर क्या कहा?

बता दें, उरी हमले के बाद भारत में पाकिस्तानी कलाकारों पर बैन लगाने की मांग काफी जोर-शोर से उठी थी। राज ठाकरे की पार्टी मनसे ने तो पाकिस्तानी कलाकारों को 48 घंटे में भारत छोड़ने की धमकी तक दे दी थी। इसके बाद मनसे ने करण जौहर की मूवी ‘ऐ दिल है मुश्किल’ का विरोध करने का फैसला किया था। मनसे का कहना था कि इस मूवी को रिलीज नहीं होने देंगे, क्योंकि इसमें पाकिस्तानी कलाकार फवाद खान है। इस मूवी की रिलीज को लेकर काफी विवाद हुआ था।

Read Also:  महाराष्ट्र के बिजनेसमैन ने करण जौहर को भेजा ₹320 का चेक, कहा- नहीं देखनी आपकी फिल्म

प्रोड्यूसर गिल्ड के सदस्यों ने गृहमंत्री राजनाथ से भी मुलाकात की थी, जिन्होंने करण जौहर का पूरा साथ देने का वादा किया था। उसके बाद करण जौहर ने महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस के निवास स्थान पर राज ठाकरे से मुलाकात की। जिसके बाद राज ठाकरे ने करण जौहर से कहा कि वे पांच करोड़ रुपए आर्मी वेलफेयर फंड में दें और मूवी की शुरुआत में उरी हमले में शहीदों की कुर्बानी याद की जाए। करण जौहर ने मनसे के अध्यक्ष राज ठाकरे की शर्तों को स्वीकार कर लिया। इसके बाद राज ठाकरे ने ‘ऐ दिल है मुश्किल’ का विरोध नहीं करने का वादा किया।

Read Also:

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 23, 2016 9:05 pm

सबरंग