December 03, 2016

ताज़ा खबर

 

पार्च्ड के बाद अब ईरानी समलैंगिक प्रेम कहानी डायरेक्ट करेंगी लीना यादव

पोलाकॉफ ने कहा, "हालांकि, यह कहानी राजनीतिक प्रकृति की है और नागरिक अधिकारों के बारे में है, लेकिन इसे एक ऐसी फिल्म के तौर पर बनाना जरूरी है जो दिल को छू ले।

Author नई दिल्ली | November 7, 2016 16:24 pm
लीना यादव अब समलैंगिक संबंधों पर आधारित फिल्म करेंगी डायरेक्ट। Image Source: Twitter

फिल्म ‘पार्च्ड’ के लिए तारीफें बटोरने वाली फिल्मकार लीना यादव अब ईरान के दो किशोरों की सच्ची और त्रासदीपूर्ण समलैंगिक प्रेम कहानी पर आधारित फिल्म ‘सीक्रेट स्काई’ को डायरेक्ट करने का मौका मिला है। ईरान में समलैंगिकता गैरकानूनी व दंडनीय है और इसके लिए मौत की सजा का प्रावधान है। ‘हॉलीवुड रिपोर्टर’ की वेबसाइट के मुताबिक, निर्माता कैरोल पोलाकॉफ की व्यूफाइंडर पिक्चर्स और डेनियल ड्रेइफस की एनिमा पिक्चर्स मानव अधिकार से जुड़ी सच्ची कहानी पर आधारित इस फिल्म का निर्माण कर रहे हैं। मिकाह श्राफ्ट और आब्दी नाजेमिअन कहानी के लेखक हैं। कहानी में दोनों किशोरों को अपने अपराध के लिए जेल और मुकदमे का सामना करना पड़ता है। सच्चाई जानकर एक महिला वकील उनकी रिहाई की कोशिश करती है। यह लीना यादव की पहली अंग्रेजी फिल्म होगी। इसकी शूटिंग 2017 में शुरू होने की उम्मीद है।

दमदार कहानी और दमदार अभिनय से सजी है ‘Parched’

पोलाकॉफ ने कहा, “हालांकि, यह कहानी राजनीतिक प्रकृति की है और नागरिक अधिकारों के बारे में है, लेकिन इसे एक ऐसी फिल्म के तौर पर बनाना जरूरी है जो दिल को छू ले। लीना साबित कर चुकी हैं कि वह अच्छी फिल्म बना सकती हैं।” उन्होंने कहा, “लीना के पास असाधारण क्षमता और जुनून है।” लीना यादव की हालिया रिलीज फिल्म ‘पार्च्ड’ में ग्रामीण भारत की चार महिलाओं की कहानी दर्शाई गई है, जो सदियों पुरानी सांस्कृतिक प्रथाओं और पितृसत्तात्मक परंपराओं का विरोध करती हैं और जीवन के सही मायने को समझने के लिए पुरानी बेड़ियों को तोड़कर स्वतंत्र होना चाहती हैं।

बता दें कि आदिल हुसैन अभिनीत फिल्मों- ‘सनराइज’ और ‘पार्च्ड’ की पटकथा को एकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर आर्ट्स एंट साइंसेज की लाइब्रेरी में संग्रहित किया गया है। दिल्ली के रहने वाले अभिनेता ने शुक्रवार को ट्वीट किया, “दो फिल्मों जिनका मैं हिस्सा रहा हूं, ‘सनराइज’ और ‘पार्च्ड’ की पटकथा को ऑस्कर लाइब्रेरी में संग्रहित किया गया है।” उन्होंने मार्गरेट हैरिक लाइब्रेरी ऑफ द एकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर आर्ट्स एंड साइंसेज से प्राप्त पत्र को भी साझा किया। मार्गरेट हैरी लाइब्रेरी कला अनुसंधान व मोशन पिक्चर के इतिहास और उसकी कला तथा उद्योग के रूप में विकास के प्रति समर्पित है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 7, 2016 4:24 pm

सबरंग