January 22, 2017

ताज़ा खबर

 

कोई कलाकार अपने देश के विरुद्ध नहीं सुन सकता, इसी वजह से पाकिस्ताना कलाकार चुप हैं: शफकत अमानत अली

शफकत ने बॉलीवुड की कई फिल्मों में गाना गाया है। जिसमें शाहरुख खान और अक्षय कुमार जैसे स्टार ने काम किया है। जहां एक तरफ सभी पाकिस्तानी कलाकार चुप्पी साधे हुए हैं। वहीं बैंड जुनून के सलमान अहमद ने इस मामले पर अपना मजबूत पक्ष रखा।

मानत ने कहा हर कलाकार अपने देश के खिलाफ कुछ नहीं सुन सकता। Image Source: Facebook

मशहूर पाकिस्तानी गायक शफकत अमानत अली का बेंगलुरु में होने वाला कॉन्सर्ट उरी हमले के बाद रद्द कर दिया गया था। उन्होंने अपने साथी कलाकारों की चुप्पी पर उनका बचाव किया है। उन्होंने कहा कि दुनिया के सभी कालाकार हमेशा से ही आतंकवाद के विरुद्ध हैं। भारत के बहुत से लोगों को लगता है कि पाकिस्तान के कलाकारों को उरी हमले की निंदा करनी चाहिए। वो हमारे लिए आखिर क्या सोचते हैं? ये सब तब शुरु हुआ जब पाकिस्तान के लिए वापस जाओ शब्द का इस्तेमाल हुआ। जिसकी वजह से वो खुद को बैकफुट पर देख रहे हैं। कोई भी कलाकार अपने देश के विरुद्ध कुछ नहीं सुन सकता इसी वजह से सभी कलाकार चुप हैं। हालांकि उरी और कहीं भी हुए आतंकी हमलों की वो निंदा करते हैं। भारत, पाकिस्तान और हर जगह के कलाकार आतंकवाद के विरुद्ध हैं। उन्हें इस हमले के बाद अपराधी महसूस करवाया जा रहा है इसी वजह से उन्होंने चुप रहने का फैसला किया है।

MNS की धमकी के बाद फवाद खान भारत छोड़कर पाकिस्तान गए; अक्टूबर में ‘ऐ दिल है मुश्किल’ के प्रमोशन के लिए नहीं आएंगे वापिस

शफकत ने बॉलीवुड की कई फिल्मों में गाना गाया है। जिसमें शाहरुख खान और अक्षय कुमार जैसे स्टार ने काम किया है। जहां एक तरफ सभी पाकिस्तानी कलाकार चुप्पी साधे हुए हैं। वहीं बैंड जुनून के सलमान अहमद ने इस मामले पर अपना मजबूत पक्ष रखा। उन्होंने कहा कि सीमापार से आने वाले कलाकारों पर प्रतिबंध लगाने से अलगाववादियों और आतंकवाद को बढ़ावा मिलेगा। ये एक तरह से उनकी जीत होगी।

Read Also: ‘स्वीटी देसाई वेड्स एनआरआई’ से नहीं हटाई जाएगी आतिफ की आवाज

मनसे ने पाकिस्तानी कलाकारों को अपने देश वापिस लौट जाने का अल्टीमेटम दिया हुआ है। जिसकी वजह से 30 सितंबर को बेंगलुरु में होने वाला शफकत का कॉन्सर्ट रद्द कर दिया गया था। अमानत ने कहा कि उरी हमले के बाद यह बिल्कुल अपेक्षित था। इस तनाव भरे माहौल में मैं इसके लिए मानसिक तौर से तैयार था। ऑर्गेनाइजर्स ने शुरू में कॉन्सर्ट को पोस्टपोन करने का फैसला लिया था। लेकिन पाकिस्तानी कलाकारों को लेकर जारी विरोध के बाद उन्होंने इसे रद्द करने का फैसला लिया। उनके साथी गायक आतिफ असलम के साथ भी यही हुआ। इस मामले में और तड़का लगाने का काम इम्पा ने कलाकारों पर बैन लगाकर किया। शफकत को लगता है कि कला और संसकृति हर सरहद से परे होती हैं। शफकत ने भारत और पाकिस्तान के लोगों से जितनी सकारात्मकता हो सके उतनी फैलाने की कोशिश करने की अपील की है। साथ ही कहा कि दोनों देशों को मिलकतर शांति बनाए रखनी चाहिए।

Read Also: फवाद खान ने भारत-पाक तनाव पर तोड़ी चुप्‍पी, बोले- हम लोग ज्‍यादा शांतिप्रद दुनिया बना सकते हैं

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 8, 2016 1:07 pm

सबरंग