ताज़ा खबर
 

अमिताभ बच्चन ने दी स्कूलों के पाठ्यक्रम में इस विषय को शामिल करने की सलाह

अभिनेता अमिताभ बच्चन ने कहा है कि स्कूलों के पाठ्यक्रमों में कचरा प्रबंधन का विषय शामिल होना चाहिए।
Author नई दिल्ली | April 20, 2017 23:13 pm
स्वच्छ भारत अभियान के विज्ञापन को प्रमोट करते अभिनेता अमिताभ बच्चन

अभिनेता अमिताभ बच्चन ने वेस्ट मैनेजमेंट यानी कचरा प्रबंधन को बेहद बड़ी समस्या करार दिया है। यही वजह है कि उन्होंने स्कूलों के पाठ्यक्रम में  भी वेस्ट मैनेजमेंट बिषय को शामिल करने पर जोर दिया है। जी हां, अमिताभ का कहना है कि स्कूलों के पाठ्यक्रमों में कचरा प्रबंधन का विषय शामिल होना चाहिए। बता दें कि अभिनेता इस समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान के साथ जुड़े हुए हैं। उन्होंने कहा, हमें इसके लिए बहुत छोटी उम्र से ही एक प्रकार की सोच और प्रशिक्षण देने की आवश्यकता है। हमें इसे कक्षा में पढ़ाए जाने की आवश्यकता है। एनडीटीवी-डिटॉल बनेगा स्वच्छ इंडिया के चौथे सीजन के शुभारंभ के मौके पर मौजूद अभिनेता ने शहर को स्वच्छ बनाए रखने के बारे में बात की।

उन्होंने कहा, हमारा यहां उद्देश्य स्वच्छता से जुड़ने से है। हमें अपने कचरे की अलग-अलग पहचान करने की आवश्यकता है। जहां से कचड़ा निकलता है, अगर हम उसे वहीं पहचान लें तो इसे रिसाइकिल करने में हमें आसानी होगी। हम अपने देश पर से कूड़े-कचरे का बोझ कम कर सकते हैं। आपको बता दें कि  अमिताभ बच्चन एनडीटीवी-डिटॉल बनेगा स्वच्छ इंडिया के कैंपेन एम्बेसडर हैं। उन्होंने कहा, मैं यात्रा के दौरान महसूस करता हूं कि स्थान साफ दिखने लगे हैं। मुंबई के कई स्थान जिन्हें गंदे स्थान के तौर पर जाना जाता था, अब साफ हो रहे हैं। मैं सोचता हूं कि अब एक बड़े स्तर पर जागरूकता आई है।

उन्होंने कहा, मैं बहुत खुश हूं कि स्वच्छ भारत अभियान शुरू किया गया और इसने अच्छा काम किया है। लेकिन, हमें अब अगले कदम की आवश्यकता है। हमें इस कचरे को एकत्रित करने, अलग करने और फिर इससे कंपोस्ट बनाने की जरूरत है। कंपोस्ट बहुत लाभकारी है। इसका उपयोग खादों के रूप में किया जा सकता है।

अभिनेता ने कहा कि यह कितना अच्छा हो अगर हम अपने घर के आंगन की सफाई के साथ साथ दूसरों के आंगन की सफाई का भी ध्यान रखें। उन्होंने कहा, “लेकिन, फिर भी मैं सोचता हूं कि यदि हम किसी दूसरे द्वारा फेंके गए कचरे को साफ करते हैं, तो यह भी एक मिसाल बनेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग