ताज़ा खबर
 

नाना पाटेकर की फिल्मों के गाने याद रहें न रहें उनके सुपरहिट डायलॉग कभी भूल नहीं सकते आप

बॉलीवुड में अपनी दमदार डायलॉग्स की वजह से एक अलग मुकाम हासिल करने वाले नाना पाटेकर का हर कोई फैन है। आज भी उनकी तरह डायलॉग कहने वाला पूरी बॉलीवुड में दूसरा कोई नहीं है।
आज हम आपको उनके कुछ ऐसे पॉपुलर डायलॉग्स के बारे में बताने जा रहे हैं जो कि बच्चे बच्चे के जुबां पर रटा हुआ है।

बॉलीवुड में अपनी दमदार डायलॉग्स की वजह से एक अलग मुकाम हासिल करने वाले नाना पाटेकर का हर कोई फैन है। आज भी उनकी तरह डायलॉग कहने वाला पूरी बॉलीवुड में दूसरा कोई नहीं है। नाना की फिल्में लोग उनके दमदार डायलॉग्स की वजह से ही देखने जाया करते थे। विश्वनाथ पाटेकर से नाना बने इस एक्टर ने अपने करियर में काफी संघर्षों का सामना किया है। 1978 में नाना पहली बार स्मिता पाटिल के साथ फिल्म ‘गमन’ में पर्दे पर नजर आए थे। नाना शुरू से ही अपने काम को लेकर काफी सीरियस रहते थे। नाना को फिल्म ‘अग्निसाक्षी’, परिंदा और क्रांतिवीर के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार मिल चुके हैं वहीं फिल्म ‘अपहरण’ में विलेन के रोल के लिए उन्हें फिल्मफेयर भी मिल चुका है। आज हम आपको उनके कुछ ऐसे पॉपुलर डायलॉग्स के बारे में बताने जा रहे हैं जो कि बच्चे के जुबां पर रटा हुआ है।

# आ गए… मेरी मौत का तमाशा देखने

1994 में रिलीज हुई ब्‍लाकबस्‍टर फिल्म क्रांतिवीर में तो नाना पाटेकर ने एक से बढ़कर डायलॉग्‍स की झड़ी लगा दी थी। इसमें उनकी फांसी के समय उन्‍होंने जो डायलॉग बोला था वह ना सिर्फ उन दिनों काफी पॉपुलर हुए बल्कि आज भी लोग उसे नहीं भूल पाते हैं।

# एक मच्‍छर…. साला एक मच्‍छर आदमी को हिजड़ा बना देता है’

1997 में आई नाना पाटेकर की फेमस मूवी यशवंत में ईमानदार पुलिस इंस्‍पेक्‍टर के रोल में नाना ने ऐसा डायलॉग मारा जो दशकों तक लोगों की जुबान पर चढ़ा रहेगा। आज भी लोग जब आपस में बात करते हैं तो इस तरह के डायलॉग्स का इस्तेमाल किसी ना किसी रूप में कर ही लेते हैं।

# ये मुसलमान का खून, ये हिंदू का खून.. बता इसमें मुसलमान का कौन सा, हिंदू का कौन सा… बता

क्रांतिवीर फिल्म में नाना पाटेकर ने एक से बढ़कर एक डायलॉग दिए। इस फिल्म को आज भी लोग सिर्फ नाना पाटेकर की डायलॉग्स की वजह से ही देखते हैं। 1994 में रिलीज हुई यह फिल्म ब्‍लाकबस्‍टर साबित हुई।

# ‘तुझे ऐसी मौत मारूंगा कि तेरी पापी आत्‍मा अगले सात जन्‍म तक किसी दूसरे शरीर में घुसने से पहले कांप उठेगी’

एक पुलिस ऑफिसर के रोल में नाना पाटेकर ने तिरंगा फिल्म में जबर्दस्त काम किया है। तिरंगा का यह डायलॉग सुनकर दर्शकों को अपने दुश्‍मनों पर गुस्‍सा निकालने का खूब मौका मिलता है। इस फिल्म में वेसे तो राजकुमार के डायलॉग्स के भी काफी चर्चे हुए थे लेकिन नाना की तो बात ही अलग है।

# भगवान का दिया हुआ सब कुछ है… दौलत है, शोहरत है, इज्जत है…

वेलकम फिल्म से नाना पाटेकर ने कॉमेडी फिल्मों में अपना हाथ आजमाया। लेकिन नाना तो नाना है यहां भी उनके दमदार डायलॉग्स ही लोगों को हंसाने के लिए काफी था।

# कौन सा कानून, कैसा कानून… यह कानून तो चंद मुजरिमों की रखैल बन बैठा है

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग